पाक ने मांगी समझौता ट्रेन धमाका जांच की रिपोर्ट

खास बातें

  • विदेश मंत्रालय में महानिदेशक हाशमी ने पाक स्थित भारत के कार्यकारी उप-उच्चायुक्त जीवी श्रीनिवास से यह जानकारी मुहैया कराने को कहा है।
इस्लामाबाद:

पाकिस्तान ने सोमवार को भारत से 2007 में समझौता ट्रेन विस्फोट मामले में हुई जांच के बारे में यशाशीघ्र जानकारी मुहैया कराए जाने को कहा है। गौरतलब है कि इस विस्फोट में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ :आरएसएस: नेता स्वामी असीमानंद ने संघ का हाथ होना कबूल किया है। विदेश मंत्रालय में महानिदेशक :दक्षिण एशिया: आफरासियाब मेहदी हाशमी ने पाक स्थित भारत के कार्यकारी उप उच्चायुक्त जी वी श्रीनिवास से यह जानकारी मुहैया कराने को कहा है। उन्होंने श्रीनिवास से कहा कि जांच में तरक्की को लेकर जानकारी यथाशीघ्र मुहैया करायी जानी चाहिए। नई दिल्ली स्थित एक अदालत में स्वामी असीमानंद के इकबालिया बयान का जाहिरा तौर पर हवाला देते हुए विदेश मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान में कहा गया, भारतीय राजनयिक का ध्यान फरवरी 2007 के समझौता एक्सप्रेस विस्फोट मामले की जांच को लेकर मीडिया में आयी खबरों की ओर दिलाया गया। विदेश मंत्रालय के बयान में कहा गया, उनसे इस बात को दोहराया गया कि पाकिस्तान सरकार समझौता एक्सप्रेस विस्फोट मामले में जांच को लेकर भारत सरकार द्वारा की गयी प्रगति का इंतजार कर रही है। इसमें कहा गया है, श्री श्रीनिवास को यह भी रेखांकित किया गया कि भारत सरकार की ओर से यह प्रतिक्रिया यथाशीघ्र दी जानी चाहिए। असीमानंद :59: ने हाल में समझौता एक्सप्रेस सहित अनेक आतंकवादी हमलों में संघ का शामिल होना कबूल किया था। इस विस्फोट में 42 पाकिस्तानियों सहित 68 लोगों की मौत हो गई थी। पाकिस्तान सरकार के सूत्रों ने कहा कि विदेश मंत्रालय को उम्मीद है कि भारत भूटान में 6-7 फरवरी को दक्षेस सम्मेलन के इतर होने वाली दोनों देशों के विदेश सचिवों की वार्ता से पहले समझौता एक्सप्रेस विस्फोट की जांच के बारे में जानकारी मुहैया कराएगा। पाकिस्तान ने पिछले सप्ताह भारत से कहा था कि समझौता एक्सप्रेस विस्फोट की साजिश रचने वालों को सजा दी जाए। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अब्दुल बासित ने कहा था, इस मोड़ तक पहुंचने में समझौता एक्सप्रेस विस्फोट मामले को चार साल लग गये। हम सिर्फ इस बात की उम्मीद ही कर सकते हैं कि अपराधियों को न्याय के कटघरे में खड़ा करने में अब और समय नहीं लगाया जाएगा। पाकिस्तान ने भारत से पिछले दो सालों के दौरान कई बार जांच में हुई प्रगति से वाकिफ कराने को कहा है। इस मुद्दे को पाकिस्तानी अधिकारियों और नेताओं ने गृहमंत्री पी चिदंबरम और विदेश मंत्री एसएम कृष्णा की पिछले साल इस्लामाबाद यात्रा के दौरान उठाया था।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com