NDTV Khabar

पाकिस्तान के PM इमरान खान बोले- देश चलाने के लिए नहीं है पर्याप्‍त पैसा, 30 जून तक...

इमरान खान (Imran Khan) ने कहा कि पिछले 10 साल में पाकिस्तान (Pakistan) का कर्ज 6 हजार अरब से बढ़कर 30 हजार अरब रुपये तक पहुंच गया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान के PM इमरान खान बोले- देश चलाने के लिए नहीं है पर्याप्‍त पैसा, 30 जून तक...

पाकिस्तान (Pakistan) के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने टैक्स देने की अपील की.

नई दिल्ली:

पाकिस्तान (Pakistan) में मंगलवार को बजट (Pakistan Budget 2019) पेश किया गया. पाकिस्तान में बजट (Pakistan Budget) पेश होने से एक दिन पहले यानी सोमवार को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) ने लोगों के अपील की. इमरान ने कहा, 'आप सभी से मेरी अपील है कि संपत्ति घोषित स्कीम में हिस्सा लें. इमरान खान ने कहा कि पिछले 10 साल में पाकिस्तान का कर्ज 6 हजार अरब से बढ़कर 30 हजार अरब रुपये तक पहुंच गया है. उन्होंने कहा कि अगर आप टैक्स नहीं देते तो हम देश को आगे नहीं ले जा सकेंगे. 30 जून के बाद आपको यह मौका नहीं मिलेगा. 


अर्थव्यवस्था को धार और युवाओं को रोजगार, पाकिस्तान के नए पीएम इमरान खान को ये 8 काम तुरंत करने होंगे

उन्होंने कहा कि जो हम सालाना टैक्स जमा करते हैं जो है तकरीबन 4 हजार अरब रुपया, उसमें से आधा टैक्स इन कर्ज की किस्तें अदा करने में जाती है. जो बाकी पैसा बचता है उसमें यह मुल्क अपने खर्चे पूरा नहीं कर सकता है. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान बदकिस्मती से दुनिया का ऐसा देश है, जहां दुनिया में सबसे कम टैक्स दिया जाता है, लेकिन उन चंद मुल्कों में से हैं जो सबसे ज्यादा खैरात देते हैं. उन्होंने कहा कि अगर जज्बा आ गया तो कमसे कम हम 10 हजार अरब रुपया हर साल इकट्ठा कर सकते हैं. उन्होंने कहा कि अगर हम टैक्स नहीं देंगे तो अपने मुल्क को ऊपर नहीं उठा सकते. हमें अपने आप को बदलना पड़ेगा.

यह भी पढ़ें: आर्थिक संकट से जूझ रहे पाकिस्तान के साथ सऊदी अरब के युवराज ने किए 20 अरब डॉलर के समझौते

पाकिस्तान प्रधानमंत्री ने कहा कि अल्लाह कुरान में कहता है कि मैं कभी किसी कौम की हालत नहीं बदलता, जब तब वह कौम खुद अपनी हालत बदलने की कोशिश नहीं करता. उन्होंने कहा कि 30 जून तक आपके पास वक्त है कि अपनी संपत्ति, बेनामी संपत्ति, बेनामी बैंक अकाउंट को घोषित करें. 30 जून के बाद आपको यह मौका नहीं मिलेगा. उन्होंने कहा कि आज सरकार के पास ऐसी जानकारी है जो पहले की सरकारों के पास नहीं थी. हमारे एजेंसियों के पास जानकारी है कि किसके पास बेनामी संपत्ति है, बेनामी अकाउंट है. इसलिए इस स्कीम का फायदा उठाएं और पाकिस्तान को फायदा दें. अपने बच्चों का भविष्य ठीक करें और मौका दें कि हम लोगों को गुरबत से निकाले. 

यह भी पढ़ें: आर्थिक तंगी से जूझ रहे पाकिस्तान को बड़ी राहत, सऊदी अरब देगा 3 अरब डॉलर

मालूम हो कि पाकिस्तान की इमरान खान सरकार ने मई महीने में 'एसेट डिक्लेरेशन स्कीम' के नाम से पहली कर माफी योजना घोषित की थी. इसके तहत नागरिकों से मामूली कर चुकाकर बेनामी संपत्ति, बैंक खाते और विदेश में जमा धन को 'सफेद' करने की अपील की गई थी. 

यह भी पढ़ें:  पाकिस्तान : इमरान सरकार को पैसों की दरकार, कार से लेकर भैंसों तक की नीलामी, कुल कर्ज बढ़कर हुआ 30,000 अरब रुपये

बता दें कि इमरान खान ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री पद की शपथ लेते हुए कहा था कि अपने समूचे इतिहास में देश इतना ऋणग्रस्त कभी नहीं रहा, जितना पिछले 10 साल में हो गया है. उन्होंने अपने पहले संबोधन में आर्थिक चुनौतियां चिन्हित की थी और स्वास्थ्य देखभाल के क्षेत्र में कमियों को भी रेखांकित किया था. इसके अलावा नई सरकार ने कार किफायत बचाने के लिए लक्जरी कारों से लेकर भैंस तक की नीलामी की थी. इमरान खान की किफायत बरतने की मुहिम के तहत प्रधानमंत्री आवास की 102 लग्जरी कारों में से 70 कारें  नीलाम की गईं थी. मीडिया की रिपोर्टों के मुताबिक, इन कारों के लिए बाजार से ऊंचा दाम मिला. बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने प्रधानमंत्री आवास में आठ भैंसें पाल रखी थीं.

टिप्पणियां

बता दें कि पाकिस्‍तान में 11 जून, 2019 को आम बजट पेश किया गया है. यह इमरान खान सरकार का पहला बजट है. पिछले साल की तुलना में 30 फीसदी बड़ा बजट पेश किया गया है. इस बार का बजट 7.022 लाख करोड़ पाकिस्‍तानी रुपये का है. पाकिस्‍तान सरकार ने रक्षा बजट में कोई कटौती नहीं की है. इस बार का रक्षा बजट 1.152 लाख करोड़ पाकिस्‍तानी रुपये का है.

VIDEO: प्राइम टाइम: क्या पाकिस्तान में बदलाव ला पाएंगे इमरान खान?​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement