PAK सेना ने मांगी मदद, अपने कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए भारतीय सेना से किया संपर्क

PAK सेना ने मांगी मदद, अपने कर्मचारियों की सुरक्षा के लिए भारतीय सेना से किया संपर्क

फाइल फोटो

इस्लामाबाद:

पाकिस्तानी सेना ने भारतीय सेना के अधिकारियों से संपर्क करके उन्हें नियंत्रण रेखा के नजदीक जनगणना के काम में लगे कर्मचारियों के संबंध में बताया है. जनगणना का दूसरा चरण 25 अप्रैल को शुरू हुआ था और यह एक माह तक चलेगा. इस चरण में कश्मीर में नियंत्रण रेखा के नजदीकी जिलों की जनसंख्या की भी गणना की जा रही है.

पाकिस्तानी सेना ने एक बयान में कहा कि एलओसी के नजदीकी रिहायशी इलाकों में नागरिक और सैन्य गणनाकर्ताओं की गतिविधियों की सूचना देने के लिए भारतीय सेना से संपर्क किया गया है.

बयान में कहा गया है, ''भारतीय सेना द्वारा लगातार संघर्ष विराम उल्लंघन करने की घटनाओं को देखते हुए नागरिक और सैन्य जवानों की सुरक्षा सुनिश्चत करने के लिए यह कदम उठाया गया है.'' जनगणना का पहला चरण 15 मार्च से शुरू हुआ था और यह 15 अप्रैल में पूरा हुआ था. एक लाख 18 हजार नागरिक गणनाकर्ता एक लाख 75 हजार सैन्य जवानों के साथ मिल कर जनसंख्या और मकानों की गिनती करने के काम में लगे हुए हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com