NDTV Khabar

पाकिस्तान ने 16 भारतीय मछुआरों को लिया हिरासत में, नौकाएं भी जब्त

पाकिस्तानी अधिकारियों ने मंगलवार को देश की समुद्री सीमा के कथित उल्लंघन के आरोप में 16 भारतीय मछुआरों को हिरासत में लिया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पाकिस्तान ने 16 भारतीय मछुआरों को लिया हिरासत में, नौकाएं भी जब्त

प्रतिकात्मक चित्र

इस्लामाबाद :

पाकिस्तानी अधिकारियों ने मंगलवार को देश की समुद्री सीमा के कथित उल्लंघन के आरोप में 16 भारतीय मछुआरों को हिरासत में लिया है. पाकिस्तान की समुद्री सुरक्षा एजेंसी (एमएसए) ने कहा कि समुद्र में एक अभियान के दौरान मछुआरों को हिरासत में लिया गया और उनकी तीन नौकाओं को भी जब्त कर लिया गया है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, गिरफ्तार मछुआरों को कानूनी कार्रवाई के लिए पुलिस को सौंप दिया गया है. आपको बता दें कि बीते जुलाई में पाकिस्तान की सरकार ने उच्चतम न्यायालय में अपनी एक रिपोर्ट सौंपी थी. इस रिपोर्ट में बताया था कि पाकिस्तान की जेलों में 418 मछुआरों समेत 470 से अधिक भारतीय बंद हैं. अपनी रिपोर्ट में विदेश मंत्रालय ने यह भी कहा था कि भारतीय जेलों में करीब 357 पाकिस्तानी बंद हैं. मंत्रालय ने यह भी कहा कि दोनों देशों के बीच स्थिति बिगड़ने और वार्ता निलंबित हो जाने के कारण पाकिस्तान-भारत कैदी न्यायिक समिति की अक्तूबर, 2013 से कोई बैठक नहीं हुई. 

सरबजीत की बहन दलबीर बोलीं-पाक ने किया क्रूर मजाक, मुलाकात केवल नाटक 


एक्सप्रेस ट्रिब्यून की खबर है, ‘‘गृह मंत्रालय द्वारा हमसे साझा की गयी सूचना के हिसाब से पाकिस्तानी जेलों में 53 आम भारतीय नागरिक और 418 भारतीय मछुआरे बंद हैं''. अखबार के अनुसार विदेश मंत्रालय ने शीर्ष अदालत से कहा कि भारतीय उच्चायुक्त द्वारा प्रदत्त सूचना और अभी एक जुलाई को पाकिस्तान और भारत के बीच आदान प्रदान की गयी कैदियों की सूची के हिसाब से भारतीय जेलों में 249 पाकिस्तानी आम नागरिक कैदी और 108 पाकिस्तानी मछुआरे हैं. इस खबर के अनुसार 2016 से भारत ने 31 मछुआरों समेत 114 पाकिस्तानी कैदियों को रिहा किया जबकि पाकिस्तान ने 941 मछुआरों समेत 951 भारतीय कैदियों को रिहा किया. 

टिप्पणियां

पाकिस्तान की जेलों में बंद हैं 470 से ज्यादा भारतीय, सर्वाधिक मछुआरे
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement