NDTV Khabar

कटासराज मंदिर में भगवान राम, हनुमान की मूर्तियां नहीं होने से पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट नाखुश

पाकिस्तान के कटासराज मंदिर में भगवान राम और हनुमान की मूर्तियां नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने अपनी नाराजगी जाहिर की है.

206 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
कटासराज मंदिर में भगवान राम, हनुमान की मूर्तियां नहीं होने से पाकिस्तानी सुप्रीम कोर्ट नाखुश

प्रतीकात्मक तस्वीर

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के कटासराज मंदिर में भगवान राम और हनुमान की मूर्तियां नहीं मिलने पर सुप्रीम कोर्ट ने अपनी नाराजगी जाहिर की है. पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने मंगलवार को पंजाब प्रांत के चकवाल जिले में ऐतिहासिक कटासराज मंदिर परिसर में भगवान राम और हनुमान की मूर्तियों की गैरमौजूदगी पर चिंता जताई. मंदिर परिसर में पवित्र सरोवर के सूखने पर स्वत: संज्ञान लेने के बाद सुनवाई करते हुए चीफ जस्टिस साकिब निसार ने सवाल किया, 'क्या अधिकारियों के पास मूर्तियां हैं या उन्हें हटा दिया गया है.'

यह भी पढ़ें - सऊदी से मुल्तान जा रहे पाकिस्तान की राष्ट्रीय एयरलाइन PIA में महिला ने दिया बच्ची को जन्म

न्यायमूर्ति निसार ने मीडिया में आई इन खबरों के आधार पर इस मुद्दे को उठाया कि कटासराज सरोवर सूख रहा है क्योंकि पास की सीमेंट फैक्ट्रियां कई बोरवेल के जरिये बड़ी मात्रा में पानी खींच रही हैं जिससे जमीन के अंदर जलस्तर कम हो रहा है.

'डॉन' ने खबर दी कि मंगलवार की सुनवाई के दौरान, न्यायमूर्ति निसार की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय पीठ ने क्षेत्र में सीमेंट फैक्ट्रियों को 'विध्वंसकारी' बताया और मंदिर के पास स्थित फैक्ट्रियों के नाम बताने को कहा.

यह भी पढ़ें - पनामा मामला : अदालत ने पाकिस्तान के वित्त मंत्री इशहाक डार को 'भगोड़ा' घोषित किया

पंजाब सरकार के वकील ने अदालत को बताया कि मंदिर के पास बेस्ट वे सीमेंट फैक्ट्री चकवाल और डीजी खान सीमेंट सहित कई अन्य फैक्ट्री हैं.

VIDEO: गुजरात की सियासत में भी लाया गया पाकिस्तान (इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement