NDTV Khabar

कश्मीर को लेकर पाकिस्तानी मंत्री ने कहा- दुनिया पाकिस्तान पर नहीं बल्कि भारत पर विश्वास करती है

इमरान खान सरकार में गृह मंत्री ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) एजाज अहमद शाह ने कबूल किया है कि कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से समर्थन पाने में नाकाम रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कश्मीर को लेकर पाकिस्तानी मंत्री ने कहा- दुनिया पाकिस्तान पर नहीं बल्कि भारत पर विश्वास करती है

इमरान खान सरकार में गृह मंत्री ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) एजाज अहमद शाह

इस्लामाबाद:

इमरान खान सरकार में गृह मंत्री ब्रिगेडियर (सेवानिवृत्त) एजाज अहमद शाह ने कबूल किया है कि कश्मीर मुद्दे पर पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय बिरादरी से समर्थन पाने में नाकाम रहा है. उन्होंने कहा कि इस्लामाबाद के प्रयासों के बावजूद दुनिया भारत की बात पर ही विश्वास करती है. उनके इस बयान से पाकिस्तान के लिए शर्मिंदगी वाली स्थिति बन गई है. बृहस्पतिवार को हम समाचार चैनल के साथ साक्षात्कार में शाह ने कहा कि पाकिस्तान में सत्तासीन बड़े लोगों ने देश को बरबाद कर दिया है.

जम्मू-कश्मीर के मुद्दे पर ट्विटर पर पकड़ा गया पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान का बड़ा झूठ

कश्मीर में हालात पर किए गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘‘हम कहते हैं कि उन्होंने (भारत) कर्फ्यू लगा दिया, वहां दवाईंया नहीं मिल रहीं लेकिन लोग (दुनिया) हम पर भरोसा ही नहीं कर रहे, बल्कि वे तो भारत पर भरोसा कर रहे हैं.'' प्रधानमंत्री इमरान खान ने दावा किया था कि कश्मीर मुद्दे पर 58 देशों ने पाकिस्तान के रूख का समर्थन किया है. इसके बाद शाह की यह टिप्पणी आई है.


खान ने 26 अगस्त को राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा था कि वह संयुक्त राष्ट्र महासभा समेत सभी अंतरराष्ट्रीय मंचों पर कश्मीर मुद्दे को उठाएंगे. जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा खत्म करने और संविधान के अनुच्छेद 370 के कुछ प्रावधानों को हटाए जाने के बाद से भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव बढ़ गया है. पाकिस्तान ने इस पर कड़ी प्रतिक्रिया दी थी.

अमेरिका की मदद के लिए हमने ही प्रशिक्षित किया था मुजाहिदीन को : पाक PM इमरान खान

भारत ने अंतरराष्ट्रीय बिरादरी को स्पष्ट शब्दों में यह कह दिया है कि अनुच्छेद 370 को खत्म करना उसका आंतरिक मामला है. साथ ही उसने पाकिस्तान को भी यह सलाह दी है कि वह सच्चाई को स्वीकार कर ले. शाह ने यह भी कहा कि पाकिस्तान ने जमात उद दावा जैसे प्रतिबंधित संगठनों पर करोड़ों रुपए खर्च कर दिए हैं और अब उन्हें मुख्यधारा में लाना चाहिए.

टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि इस तरह के समूहों के खिलाफ कार्रवाई शुरू की जा चुकी है. शाह ने कहा कि राष्ट्रीय कार्य योजना के तहत सभी जिहादियों पर नियंत्रण के सरकार के फैसले का ही परिणाम है कि मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड और जमात उद दावा का प्रमुख हाफिज सईद अदालतों में मुकदमों का सामना कर रहा है.

Video: मालदीव संसद में कश्मीर मुद्दा उठाने पर पाकिस्तान को भारत ने फटकारा



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement