NDTV Khabar

प्रधानमंत्री आवास की जगह यहां रहेंगे पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान

राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि देश के हालात को देखते हुए हम सभी को खर्च में कटौती की जरूरत है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रधानमंत्री आवास की जगह यहां रहेंगे पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान

इमरान खान ने प्रधानमंत्री आवास में रहने से किया इनकार

नई दिल्ली: पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रधानमंत्री के लिए पहले से निर्धारित आवास में रहने से इनकार कर दिया है. रविवार को उन्होंने राष्ट्र के नाम अपने संबोधन में कहा कि देश के हालात को देखते हुए हम सभी को खर्च में कटौती की जरूरत है. आज हमारे ऊपर रिकॉर्ड कर्ज है. लिहाजा मैंने यह निर्णय लिया है कि मैं प्रधानमंत्री आवास की जगह सैन्य सचिव के तीन बेडरूम वाले आवास में रहूंगा. खान ने राष्ट्र के नाम अपने पहले संबोधन में देश के खर्चे के साथ ही अपने ऊपर होने वाले खर्चे में भी मितव्ययिता बरतने की भी घोषणा की. उन्होंने कहा कि वह बानीगाला में अपने आवास में रहना चाहते थे लेकिन सुरक्षा एजेंसियों ने बताया कि उनकी जान को खतरा है इसलिए वह यहां रह रहे हैं.खान ने कहा कि प्रधानमंत्री निवास में 524 सेवक और 80 कार है.

यह भी पढ़ें: प्रधानमंत्री इमरान खान ने राष्ट्र के नाम अपने पहले संबोधन में इन समस्याओं को बताया बड़ी चुनौती

टिप्पणियां
प्रधानमंत्री यानि मेरे पास 33 बुलेटप्रूफ कार भी हैं. उड़ने के लिए हेलिकॉप्टर और विमान भी हमारे पास है. हमारे यहां गवर्नर का विशाल आवास हैं और हर कल्पनीय आराम की चीजें हैं. उन्होंने कहा कि एक तरफ हमारे पास अपने लोगों पर खर्च करने के लिए पैसे नहीं है दूसरी तरफ हमारे यहां कुछ लोग ऐसे तरह रहते हैं जैसे औपनिवेशिक स्वामी रहते थे. वह अपने और देश के खर्चे को कैसे घटाएंगे इस बारे में अपनी योजनाएं बताते हुए खान ने कहा कि मैं 524 की जगह दो लोगों को रखूंगा. मैं तीन बेडरूम वाले आवास में रहूंगा.

VIDEO: पाक के सियासी कप्तान बने इमरान खान.

मैं दो कार रखूंगा क्योंकि खुफिया एजेंसियों ने मुझे बताया है कि मेरी जान को खतरा है. मैं बानीगाला नहीं छोड़ना चाहता था लेकिन मुझे ऐसा करने के लिए मजबूर होना पड़ा है. खान ने कहा उनकी सरकार बाकी बुलेट प्रूफ कारों को नीलाम करेगी और कारोबारियों को उन्हें खरीदने का न्योता दिया. गौरतलब है कि इमरान खान ने अपने संबोधन में पाकिस्तान की शिक्षा और स्वास्थ व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किए. उन्होंने कहा कि हमें अभी काफी कुछ सुधारने की जरूरत है. इसके लिए हमारी सरकार दिन रात एक करके काम करेगी. (इनपुट भाषा से) 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement