भारतीय लड़की ने दुबई में खोया अपना Wallet तो पाकिस्तानी ड्राइवर ने ऐसे की मदद

खादिम ने बताया, ''क्योंकि दूसरी सवारी करने वाले परिवार ने कहा कि यह वॉलेट उनका नहीं है, मैंने इसे खोला और देखा कि क्या इसमें किसी का फोन नंबर है. हालांकि, मुझे इस वॉलेट में केवल कुछ कार्ड्स और कैश रखा हुआ दिखाई दिया''.

भारतीय लड़की ने दुबई में खोया अपना Wallet तो पाकिस्तानी ड्राइवर ने ऐसे की मदद

रैशेल, पाक ड्राइवर की कैब में अपना वॉलेट भूल गई थी.

खास बातें

  • रैशेल से 4 जनवरी को खोया था उसका वॉलेट
  • अपने दोस्त के जन्मदिन में जाते वक्त रैशेल कैब में भूल गई थी वॉलेट
  • कैब ड्राइवर ने लौटाया वापस
दुबई:

दुबई (Dubai) में एक पाकिस्तानी ड्राइवर, भारतीय लड़की के लिए एक हीरो बनकर आया. दरअसल, रैशेल रोज (Raechel Rose) नामक लड़की से उसका वॉलेट खो गया था, जिसमें उसका यूके का स्टूडेंट वीजा और अन्य कई जरूरी चीजें रखी हुई थीं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, सर्दियों की छुट्टी के दौरान रैशेल रोज दुबई गई थी और वापस आने से तीन दिन पहले उसका वॉलेट खो गया था. गल्फ न्यूज ने रविवार को एक रिपोर्ट में कहा, रैशेल, 4 जनवरी को मोदास्सर खादिम की कैब में अपना वॉलेट भूल गई थी. 

यह भी पढ़ें: विदेश से शादी करने आया था शख्स, होने वाली पत्नी ने ही करवा दिया कत्ल...बताई ये वजह

जिस वक्त यह घटना हुई, उस वक्त लैंकेस्टर यूनिवर्सिटी में कॉरपोरेट लॉ की छात्रा रैशेल अपने दोस्त के जन्मदिन में शिरकत करने के लिए जा रही थी. गल्फ न्यूज से बात करते हुए रैशेल की मां ने कहा, ''4 जनवरी की शाम को 7.30 बजे उसने अपनी एक दोस्त के साथ बुर्जुमान से टैक्सी ली थी. तभी उन्होंने अपने एक अन्य दोस्त को दूसरी कार में देखा और उसी के साथ जाने का फैसला किया. रैशेल और उसकी दोस्त तुरंत टैक्सी से उतर गए लेकिन रैशेल अपना वॉलेट कार में ही भूल गई''. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

उसके यूके स्टे परमिट कार्ड के अलावा, वॉलेट में उसकी अमीरात आईडी, संयुक्त अरब अमीरात ड्राइविंग लाइसेंस, स्वास्थ्य बीमा कार्ड, क्रेडिट कार्ड और 1,000 से अधिक दिरहम (दुबई की करंसी) थे. वहीं खादिम ने दो सवारियों को उनकी मंजिल तक पहुंचाने के बाद अपनी कार में रैशेल का वॉलेट देखा. इसके बाद उसने अपनी सवारी से पूछा कि क्या यह वॉलेट उनका है. इस पर उन्होंने कहा नहीं है. 

खादिम ने बताया, ''क्योंकि दूसरी सवारी करने वाले परिवार ने कहा कि यह वॉलेट उनका नहीं है, मैंने इसे खोला और देखा कि क्या इसमें किसी का फोन नंबर है. हालांकि, मुझे इस वॉलेट में केवल कुछ कार्ड्स और कैश रखा हुआ दिखाई दिया''. इसके बाद खादिम ने रोड्स एंड ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी की मदद से, इस वॉलेट को उसके घर पहुंचाया.