पाक मूल के कर्मचारी ने पत्नी को 40 बार चाकू घोपा

खास बातें

  • न्यूयार्क में इस शख्स ने पत्नी को 40 बार चाकू मारने के बाद उसका सिर धड़ से अलग कर दिया, क्योंकि उसने तलाक लेने का मुकदमा दायर करने की हिमाकत की थी।
न्यूयार्क:

पाकिस्तानी मूल के एक अमेरिकी कर्मचारी ने अपनी पत्नी को 40 बार चाकू मारने के बाद उसका सिर धड़ से अलग कर दिया, क्योंकि उसने तलाक लेने के लिए मुकदमा दायर करने की हिमाकत की थी। अभियोजन पक्ष ने अपनी शुरुआती दलीलों में न्यूयार्क की ज्यूरी को यह जानकारी दी। अमेरिका पर हुए 9/11 के हमलों के बाद मुसलमानों की छवि सुधारने के लिए शुरू किए गए एक टीवी नेटवर्क के संस्थापक 46 वर्षीय मुजम्मिल हसन पर आरोप है कि उसने 12 फरवरी, 2009 को अपनी पत्नी आसिया हसन की हत्या कर दी। 'पोस्ट क्रॉनिकल' की खबर के अनुसार, एरी काउंटी जिले के वकील पॉल बोनानो ने ज्यूरी को बताया कि हसन ने आसिया की हत्या करने के लिए दो शिकारी चाकुओं का इस्तेमाल किया। आसिया की लाश टीवी चैनल के कॉरिडोर में मिली, उसका सिर लाश से कई फुट की दूरी पर पड़ा था। बोनानो का कहना है कि आसिया को 40 बार चाकू मारा गया और उसकी गर्दन काट दी गई। उन्होंने कहा, 37 वर्षीय आसिया की हत्या इसलिए की गई, क्योंकि उसने अपने बच्चों के बेहतर जीवन के लिए अपने पति से तलाक हासिल करने के लिए मुकदमा दायर करने की हिमाकत की थी। पाकिस्तान में जन्मी आसिया की हत्या तलाक के लिए अर्जी देने के एक सप्ताह बाद हुई। दोनों की शादी को नौ साल हुए थे। हसन का कहना है कि वह सेकेंड डिग्री हत्या का दोषी नहीं है। बचाव पक्ष के वकील जेर्मी श्वाटर्ज का कहना है, हसन ने अपनी पत्नी की हत्या की, मगर वह सेकेंड डिग्री हत्या का दोषी नहीं है। अखबारों ने हसन के हवाले से कहा, मैं यह नहीं कह रहा कि जो हुआ वह सही था। मगर मैं यह कहूंगा कि जो हुआ वह संस्कृति और धर्म के कारण हुआ। मैं आपको यह नहीं कहूंगा कि आसिया हसन के साथ जो हुआ, वह होना चाहिए था। मगर हर कहानी के दो पहलू होते हैं। बचाव पक्ष का कहना है कि आसिया ने उनके मुवक्किल को घटना के कुछ घंटे पहले चाकू से धमकाया था और कहा था कि वह उसे जेल भिजवा देगी और उसके बच्चों को उससे दूर ले जाएगी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com