NDTV Khabar

सीरिया के डौमा में विद्रोहियों के कब्जे से रिहा लोगों का पहला जत्था दमिश्क पहुंचा

लाइव फुटेज में बसों में सवार नागरिकों को वफादीन क्षेत्र पहुंचते देखा जा सकता है.

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीरिया के डौमा में विद्रोहियों के कब्जे से रिहा लोगों का पहला जत्था दमिश्क पहुंचा

सीरिया में कल ही एक हमले में 70 लोगों की मौत हो गई थी

नई दिल्ली: सीरिया के डौमा में विद्रोहियों के कब्जे से रिहा लोगों का पहला जत्था रविवार को दमिश्क के पास सीरियाई सैन्य ठिकाने पर पहुंच गया. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, रिहा हुए लोगों को लेकर पहली बस दमिश्क के पूर्वोत्तर में वाफिदीन क्षेत्र पहुंची. इस बस में दमिश्क के पश्चिमी गूता में विद्रोहियों के कब्जे वाले आखिरी क्षेत्र डौमा में इस्लाम आर्मी द्वारा अगवा किए गए लोग शामिल थे. 

सीरिया में विद्रोहियों का गढ़ पूर्वी घोउटा में हुए हवाई हमले में कम से कम 70 नागरिकों की मौत

लाइव फुटेज में बसों में सवार नागरिकों को वफादीन क्षेत्र पहुंचते देखा जा सकता है. इस दौरान जवान उनकी रिहाई को लेकर नारेबाजी कर रहे हैं और उसका जश्न मना रहे हैं. अगवा किए गए लोगों की रिहाई के बदले इस्लाम आर्मी के विद्रोहियों और उनके परिवारों को इस स्थान से सकुशल बाहर जाने देने के लिए रविवार को बनी सहमति के तहत अगवा किए गए नागरिकों की रिहाई सीरियाई सेना की प्राथमिकता है.

टिप्पणियां
वीडियो : श्री श्री रविशंकर की टिप्पणी से उठा विवाद
रिहा किए गए लोगों को चार वषों तक विद्रोहियों के कब्जे में रहने के बाद उनकी रिहाई का जश्न मनाने के लिए दमिश्क में फेहा स्टेडियम ले जाया जाएगा. वफादीन क्षेत्र में जवानों ने राष्ट्रपति बशर अल असद के समर्थन में नारे लगाते हुए कहा, "बशर हम पूरे तन एवं मन से आपके लिए कुर्बानी देंगे."
 

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement