दिल को छू लेगी कोविड-19 से पीड़ित बुजुर्ग को सहारा देते हुए डॉक्टर की ये फोटो, हो रही वायरल

टेक्सास अस्पताल में कोरोनोवायरस के मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर जोसेफ वरोन ने कोविड-19 आईसीयू (ICU) में एक दुखी बुजुर्ग व्यक्ति को देखा. वरॉन उस बुजुर्ग व्यक्ति के पास पहुंचे और अपने कंधों पर उन्हें सहारा देकर उनका दुख बांटने लगे.

दिल को छू लेगी कोविड-19 से पीड़ित बुजुर्ग को सहारा देते हुए डॉक्टर की ये फोटो, हो रही वायरल

दिल को छू लेगी कोविड-19 से पीड़ित बुजुर्ग को सहारा देते हुए डॉक्टर की ये फोटो, हो रही वायरल

वॉशिंगटन:

टेक्सास अस्पताल में कोरोनोवायरस के मरीजों का इलाज करने वाले डॉक्टर जोसेफ वरोन ने कोविड-19 आईसीयू (ICU) में एक दुखी बुजुर्ग व्यक्ति को देखा. वरॉन उस बुजुर्ग व्यक्ति के पास पहुंचे और अपने कंधों पर उन्हें सहारा देकर उनका दुख बांटने लगे. तभी थैंक्सगिविंग डे पर बुजुर्ग व्यक्ति को सहारा देते हुए वरॉन की ये दिल को छू लेने वाली तस्वीर गेटी इमेजेस के एक फोटोग्राफर द्वारा कैप्चर कर ली गई थी, जो कि अब दुनिया भर में वायरल हो रही है.

Coronavirus India Updates: बिहार में कोविड-19 से पांच लोगों की मौत, संक्रमितों के मामले बढकर 2,35,616 हुए

ह्यूस्टन में यूनाइटेड मेमोरियल मेडिकल सेंटर के कर्मचारियों के प्रमुख वरुण ने सीएनएन को बताया, कि वह कोविड आईसीयू में प्रवेश कर रहे थे जब उन्होंने बुजुर्ग मरीज को "अपने बिस्तर से बाहर देखा और वे कमरे से बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे. वरॉन ने कहा, वह रो रहे थे, तो मैं उनके करीब गया और मैंने उनसे पूछा, 'आप रो क्यों रहे हैं?" तब बुजुर्ग ने कहा, 'मैं अपनी पत्नी के साथ रहना चाहता हूं." तभी मैं उनके करीब गया और उन्हें पकड़ लिया. मुझे उनके लिए बहुत अफ़सोस हो रहा था. मैं बहुत दुखी महसूस कर रहा था, बिल्कुल उनकी ही तरह. आखिरकार उन्होंने बेहतर महसूस किया और रोना बंद कर दिया."

34d7j45

देश का दूसरा सीरो सर्वे, 10 साल से ऊपर हर 15 में से 1 हो चुका कोरोना संक्रमित

वरॉन ने सोमवार को सीएनएन को बताया, कि वे 256 दिनों से लगातार काम कर रहे हैं. डॉक्टर ने कहा, मुझे नहीं पता कि मैं अब तक क्यों नहीं टूटा, मेरी नर्सें दिन में रोती हैं." वरॉन ने कहा, कि कोविड यूनिट को अलग करना कई रोगियों, विशेषकर बुजुर्गों के लिए काफी मुश्किल था. उन्होंने कहा, आप कल्पना कर सकते हैं, आप एक ऐसे कमरे में हैं, जहाँ लोग स्पेससूट में आ रहे हैं. अगर आप एक बुजुर्ग व्यक्ति हैं, तो यह ज्यादा कठिन है क्योंकि आप अकेले हैं." वरॉन ने बताया, "उनमें से कुछ रोते हैं. कुछ भागने की कोशिश करते हैं, एक ने तो दूसरे दिन खिड़की से भागने की कोशिश की."

पुडुचेरी: कोविड 19 के 27 नये मामले सामने आये, कोई मौत नहीं

Newsbeep

वरॉन ने उन लोगों के लिए भी एक संदेश दिया है, जो महामारी के बीच सावधानी नहीं बरत रहे हैं. उन्होंने कहा, "लोग बार, रेस्तरां, मॉल में घूम रहे हैं, ये सब पागल हैं, ये पहले नहीं सुनते हैं और फिर वे आईसीयू में पहुंच जाते हैं. उन्हें बुनियादी चीजें ध्यान रखने की जरूरत है - सामाजिक दूरी बनाए रखें, मास्क पहनें, हाथ धोएं और उन जगहों पर जाने से बचें जहां बहुत सारे लोग हैं."

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


कोरोना से जंग : दिल्ली के कोविड अस्पतालों में हो सकती है मेडिकल छात्रों की तैनाती