NDTV Khabar

जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए हैम्बर्ग पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, अमेरिका के विरोध में 'जोम्बी वॉक'

आज से शुरू हो रहे जी-20 शिखर सम्मेलन में शिरकत करने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैम्बर्ग पहुंच गए हैं.

11 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
जी-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए हैम्बर्ग पहुंचे प्रधानमंत्री मोदी, अमेरिका के विरोध में 'जोम्बी वॉक'

प्रधानमंत्री कार्यालय ने प्रधानमंत्री के हैम्बर्ग पहुंचने की जानकारी दी है (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. जर्मन के शहर हैम्बर्ग में हो रहा है जी-20 शिखर सम्मेलन
  2. प्रधानमंत्री मोदी सम्मेलन में भाग लेने के लिए हैम्बर्ग पहुंचे
  3. प्रधानमंत्री मोदी इस्राइल की यात्रा पूरी करके सीधे हैम्बर्ग पहुंचे
नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस्राइल की अपनी तीन दिन की यात्रा पूरी करने के बाद जी-20 शिखर सम्मेलन में शामिल होने के लिए जर्मनी के हैम्बर्ग शहर पहुंच गए हैं. हैम्बर्ग में 7-8 जुलाई को जी-20 शिखर-सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है. सम्मेलन का इस साल का विषय 'शेपिंग एन इंटर-कनेक्टिड वर्ल्ड' रखा गया है. 

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट किया, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी-20 शिखर सम्मेलन के लिए हैम्बर्ग पहुंच गए. शिखर सम्मेलन के जरिए अहम बहुपक्षीय एवं द्विपक्षीय वार्ता होंगी. नरेंद्र मोदी सम्मेलन के इतर ब्रिक्स देश ब्राजील, रूस, भारत, चीन एवं दक्षिण अफ्रीका के नेताओं की बैठक में भी भाग लेंगे और कुछ नेताओं के साथ द्विपक्षीय बैठकें भी करेंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता गोपाल बागले ने बताया कि प्रधानमंत्री इस शिखर सम्मेलन की पृष्ठभूमि में अर्जेटिना, कनाडा, इटली, जापान, मैक्सिको, रिपब्लिक आफ कोरिया, ब्रिटेन और वियतनाम के साथ उनकी पूर्व निर्धारित द्विपक्षीय बैठक हैं. इसके अलावा वे ब्रिक्स देशों के नेताओं की बैठक में भी हिस्सा लेंगे.

12वें जी-20 शिखर सम्मेलन के दौरान आतंकवाद से मुकाबला और आथर्कि सुधार जैसे मुद्दों के छाए रहने की संभावना है साथ ही मुक्त और खुला व्यापार, जलवायु परिवर्तन, आव्रजन, सतत विकास और वैश्विक स्थायित्व जैसे विषयों पर भी चर्चा की संभावना है. शनिवार को समापन सत्र होगा. इसके बाद जी-20 नेताओं की ओर से संयुक्त बयान जारी किया जाएगा.

उधर, जी-20 सम्मेलन के विरोध में हज़ारों प्रदर्शनकारी हैम्बर्ग की सड़कों पर जुटे हुए हैं. कई जगहों पर आगजनी की भी घटनाएं हुई हैं. प्रदर्शनकारी नरक में स्वागत है की पट्टियां लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. शिखर सम्मेलन स्थल के पास प्रदर्शनकारियों ने पानी की बोतलों फेंकी. पुलिस के साथ उनकी झड़प भी हुई. प्रदर्शनकारी जोम्बी बनकर (जोम्बी वॉक) शहरभर में घूम रहे हैं. दरअसल ये लोग अमेरिका द्वारा पेरिस जलवायु समझौते से खुद को अलग किए जाने का विरोध कर रहे हैं.  जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने सम्मेलन के दौरान सुरक्षा व्यवस्था का आश्वसन दिया है. शहरभर में 20 हज़ार से अधिक पुलिसकर्मी तैनात किए गए हैं. 

(इनपुट भाषा से भी)
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement