पाक दिवालिया होने की कगार पर : PML-Q

खास बातें

  • पाक की विपक्षी पार्टी ने कहा कि देश के आर्थिक हालात दिवालिया होने के कगार पर हैं और यदि कराची में शांति बहाल नहीं हुई, तो हालात नहीं बदलेंगे।
इस्लामाबाद:

पाकिस्तान की विपक्षी पार्टी पीएमएल-क्यू ने कहा है कि देश के आर्थिक हालात दिवालिया होने के कगार पर पहुंच चुके हैं और यदि कराची में शांति व्यवस्था बहाल नहीं हुई, तो यह हालात नहीं बदले जा सकेंगे। पीएमएल-क्यू के अध्यक्ष चौधरी शुजात हुसैन और महासचिव मुसाहिद हुसैन सैयद ने शुक्रवार को कराची में एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि उन्होंने सरकार को पांच सूत्रीय कार्ययोजना का मसौदा सौंपा है। समाचार चैनल 'जियो न्यूज' के मुताबिक शुजात हुसैन ने कहा कि हमने कोई समयसीमा नहीं निर्धारित की है। उन्होंने कहा, सुनियोजित हत्याओं का मसला बेहद गंभीर है। इस स्थिति को बदला जाना चाहिए। 2011 के पहले 15 दिनों में यहां 60 से ज्यादा लोगों की हत्या हुई है। मुसाहिद हुसैन सईद ने कहा कि भ्रष्टाचार और सुनियोजित हत्याएं देश के आर्थिक दिवालिएपन के प्रमुख कारण हैं।  शुजात हुसैन ने कहा कि उनकी पार्टी चाहती है कि सरकार पांच साल का कार्यकाल पूरा करे और पीएमएल-क्यू लोकतांत्रिक व्यवस्था को भंग नहीं करना चाहती। दोनों नेताओं ने मुत्तहिदा कौमी मूवमेंट (एमक्यूएम) द्वारा नेशनल असेंबली में प्रस्तावित निशस्त्रीकरण विधेयक का भी स्वागत किया। पिछले साल कराची में हिंसा की विभिन्न घटनाओं में 1,300 लोगों की सुनियोजित तरीके से हत्या कर दी गई थी, वहीं वर्ष 1986 के बाद से अब तक 10,000 लोगों की हत्या की जा चुकी है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com