Budget
Hindi news home page

कसाई बनने की थी तमन्ना, लेकिन ईसाइयों के सबसे बड़े धर्मगुरु बन गए पोप फ्रांसिस

ईमेल करें
टिप्पणियां
कसाई बनने की थी तमन्ना, लेकिन ईसाइयों के सबसे बड़े धर्मगुरु बन गए पोप फ्रांसिस
वेटिकन सिटी: पोप फ्रांसिस ने गुरुवार को खुलासा किया कि बचपन में उनका सपना बड़ा होकर एक कसाई बनना था। यही नहीं, वे जब अपनी मां और दादी के साथ बाजार जाते थे, तो कसाइयों के काम की तारीफ करते नहीं थकते थे।

एफे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, बच्चों का गाना बजाने वालों के एक सदस्य द्वारा किए गए सवाल के जवाब में वेटिकन सिटी में पोप ने बचपन के इस सपने का खुलासा किया।

पोप ने कहा कि वह एक कसाई बनना चाहते थे, जो अपने चाकू का इस्तेमाल एक कला की तरह करता है, जिसकी बचपन में वह बेहद प्रशंसा करते थे। उन्होंने कहा, 'और बाद में मेरा दिमाग बदल गया।'


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement