NDTV Khabar

डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार से ज्यादा बार बोल चुके हैं झूठ, अमेरिकी अखबार ने खोली पोल

डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार 796 बार गलत और गुमराह करने वाले दावे कर चुके हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोनाल्ड ट्रंप राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार से ज्यादा बार बोल चुके हैं झूठ, अमेरिकी अखबार ने खोली पोल

अपने कार्यकाल के 869 दिन तक ट्रंप ने 10 हजार 796 बार झूठ बोला और गुमराह करने वाले दावे किए.

खास बातें

  1. डोनाल्ड ट्रंप 10 हजार से ज्यादा बार झूठ बोल चुके हैं.
  2. सोशल मीडिया पर लोग ट्रंप को झूठा बोल रहे हैं.
  3. ट्रंप पर मीम्स भी बन रहे हैं.
नई दिल्ली:

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) के कश्मीर को लेकर भारत और पाकिस्तान के बीच 'मध्यस्थता' वाले बयान को भारत खारिज कर चुका है. ऐसे में सोशल मीडिया पर लोग ट्रंप को झूठा बोल रहे हैं. साथ ही उन पर मीम्स भी बन रहे हैं. हालांकि ऐसा पहली बार नहीं हुआ जब ट्रंप ने झूठ बोला हो या गुमराह करने वाला दावा किया हो. ट्रंप कई बार झूठ बोल चुके हैं और उन्होंने कई बार गुमराह करने वाले दावे किए हैं. ट्रंप की झूठ की पोल कई बार अमेरिका के ही अखबार ने खोली है. अमेरिकी अखबार वाशिंगटन पोस्ट ने कई बार ट्रंप के झूठ को पकड़ा है.

वॉशिंगटन पोस्ट के फैक्ट चेकर्स डेटाबेस के मुताबिक डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका (US President Donald Trump) के राष्ट्रपति बनने के बाद 10 हजार 796 बार झूठ बोल चुके हैं. अपने कार्यकाल के 869 दिन तक ट्रंप ने 10 हजार 796 बार झूठ बोला और गुमराह करने वाले दावे किए. अमेरिका का राष्ट्रपति बनने के बाद से ट्रंप ने औसतन रोजाना 12 बार झूठ बोले हैं. 

इन दावों में से लगभग पांचवां हिस्सा इमीग्रेशन के बारे में है, उनके हस्ताक्षर का मुद्दा - एक प्रतिशत जो कि तब से बढ़ गया है जब सरकार ने यू.एस.-मैक्सिको सीमा के साथ अपनी वादा की गई दीवार के लिए फंड बंद कर दिया था. सबसे ज्यादा ट्रंप ने 172 बार झूठा दावा किया कि उनकी सीमा की दीवार बनाई जा रही है. इसके अलावा उन्होंने कारोबार और अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में रूस के दखल के मुद्दे पर भी कई बार झूठ बोला है. 

आपको बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कश्मीर मुद्दे पर भारत और पाकिस्तान के बीच ‘मध्यस्थता' की सोमवार को पेशकश की. ट्रंप ने कहा था कि यदि भारत और पाकिस्तान अनुरोध करते हैं तो वह कश्मीर मुद्दे पर मध्यस्थता के लिए तैयार हैं. हालांकि भारत ने ट्रंप के इस बयान को खारिज कर दिया और विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अमेरिकी राष्ट्रपति से इस तरह का कोई अनुरोध नहीं किया है.

टिप्पणियां

अन्य खबरें
कश्मीर पर दिए बयान को लेकर ट्रोल हुए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, Memes हो रहे हैं वायरल

अमेरिकी दौरे पर गए पाक पीएम से राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा - मीडिया ने आपसे ज्यादा बदतर व्यवहार तो मेरे साथ किया
 




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement