OPEC से बाहर होगा कतर, 60 साल से था समूह का सदस्य, प्राकृतिक गैस का बढ़ाएगा उत्पादन

कतर ने प्राकृतिक गैस उत्पादन को बढ़ाने की अपनी योजना पर ध्यान केंद्रित करने को इसका कारण बताया है.

OPEC से बाहर होगा कतर, 60 साल से था समूह का सदस्य, प्राकृतिक गैस का बढ़ाएगा उत्पादन

प्रतीकात्मक तस्वीर.

खास बातें

  • एक जनवरी 2019 से हो जाएगा बाहर
  • प्राकृतिक गैस का बढ़ाएगा उत्पादन
  • 60 साल से था सदस्य
दोहा:

कतर ने करीब 60 वर्षो तक तेल उत्पादक देशों के समूह (ओपेक) का सदस्य रहने के बाद सोमवार को संगठन से अलग होने के अपने इरादे की घोषणा की. कतर ने प्राकृतिक गैस उत्पादन को बढ़ाने की अपनी योजना पर ध्यान केंद्रित करने को इसका कारण बताया है. कतर ने दोहा में एक संवाददाता सम्मेलन में एक जनवरी 2019 को संगठन से बाहर होने की अपनी योजना की घोषणा की, जिसकी पुष्टि कतर पेट्रोलियम ने ट्विटर पर की. कतर पेट्रोलियम तेल और गैस गतिविधियों के लिए जिम्मेदार सरकार के स्वामित्व वाला निगम है.

देश के ऊर्जा मंत्री साद शेरिदा अल काबी ने ट्वीट कर कहा, 'संगठन से बाहर होने का फैसला कतर के प्राकृतिक गैस उत्पादन विकसित और उसे बढ़ाने की योजना के अपने प्रयासों पर ध्यान केंद्रित करने की इच्छा को दर्शाता है.' समाचार एजेंसी एफे की रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कहा कि ओपेक को फैसले के बारे में सूचित कर दिया गया है. कतर 1961 से ओपेक का सदस्य रहा है. 
ओपेक के फैसले के मुताबिक यूएई तेल उत्पादन में करेगा प्रतिदिन 1,39,000 बैरल की कटौती

अल काबी ने कहा कि यह फैसला कतर के आगामी वर्षो में प्राकृतिक गैस के उत्पादन को सालाना 7.7 करोड़ टन से बढ़ा कर 11 करोड़ टन करने के मकसद को दर्शाता है.

Newsbeep

(इनपुट- आईएएनएस)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ओपेक देश जिम्मेदारी निभाते हुये कच्चे तेल का दाम उचित स्तर पर रखें : धर्मेंद्र प्रधान