NDTV Khabar

चीन में SCO मीटिंंग: पाकिस्तान ने झांकी में लाल किले को लाहौर में दिखाया...जमकर हुई किरकिरी

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के दावत समारोह में बुधवार को दिल्ली के ऐतिहासिक लाल किले को लाहौर के शालीमार गार्डन के रूप में दिखाया गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
चीन में SCO मीटिंंग: पाकिस्तान ने झांकी में लाल किले को लाहौर में दिखाया...जमकर हुई किरकिरी

भारतीय राजनयिकों ने पाकिस्तानी समकक्षों की गलतियों पर आपत्ति जताई...

खास बातें

  1. भारत-पाक के एससीओ में प्रवेश के लिए स्वागत समारोह का आयोजन
  2. यह रंगारंग कार्यक्रम आयोजकों के लिए शर्मिंदगी का सबब बन गया
  3. एससीओ अधिकारी ने इस गफलत को लेकर मांगी माफी
बीजिंग:

एससीओ द्वारा अपने बीजिंग मुख्यालय में आयोजित एक स्वागत समारोह में आयोजकों को उस वक्त शर्मिंदगी का सामना करना पड़ा, जब पाकिस्तान की झांकी में लाहौर के शालीमार गार्डन के तौर पर तिरंगा के साथ भारत का लाल किला दिख गया. भारत और पाक के एससीओ में प्रवेश को रेखांकित करने के लिए इस स्वागत समारोह का आयोजन किया गया. चीन के विदेश मंत्राी वांग यी, चीन में नियुक्त भारतीय दूत विजय गोखले के साथ पाकिस्तान के राजदूतू मसूद खालिद और शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के अन्य सदस्य इस कार्यक्रम में शरीक हुए.

शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के दावत समारोह में बुधवार को दिल्ली के ऐतिहासिक लाल किले को लाहौर के शालीमार गार्डन के रूप में दिखाया गया. भारतीय राजनायिकों ने इस पर आपत्ति जताई तो पाकिस्तानी अधिकारी ने इसे चूक माना.
मजेदार बात तो यह है कि स्मारक पर भारतीय झंडा साफ तौर पर दिख रहा था. यह पाकिस्तान की झांकी में शामिल था, जिस पर शीर्षक लिखा था, 'लाहौर में किला एवं शालीमार गार्डेन (1981).' झांकी में शामिल पाकिस्तानी महिला ने नाम न जाहिर करने पर कहा, "यह एक गड़बड़ी है. भारतीय व पाकिस्तानी दोस्त हैं."

टिप्पणियां

गौरतलब है कि सत्रहवीं शताब्दी के स्मारक से सभी भारतीय प्रधानमंत्री स्वतंत्रता दिवस पर संबोधित करते आ रहे हैं. लाल किले का निर्माण मुगल शासक शाहजहां ने 17वीं शताब्दी में कराया था.


भारतीय राजनयिकों ने जताई आपत्ति  
भारतीय राजनयिकों ने पाकिस्तानी समकक्षों की गलतियों की तरफ इशारा किया. यह दावत लीजेंडेल होटल बीजिंग के वर्सीलिस हॉल में आयोजित की गई, जिसमें एससीओ के महासचिव राशिद अलिमोव भी मौजूद थे. चीन में भारत के राजदूत विजय गोखले और उनके पाकिस्तानी समकक्ष मसूद खालिद ने आपस में बातचीत की. भारत और पाकिस्तान अस्ताना में वार्षिक शिखर सम्मेलन के दौरान एससीओ में शामिल हुए, जो बीते सप्ताह समाप्त हुआ. इस तरह अब एससीओ के सदस्यों की संख्या आठ हो गई है. इस समूह में अब चीन, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान, उज्बेकिस्तान, भारत और पाकिस्तान शामिल हैं. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement