NDTV Khabar

लंदन हमला : पाकिस्तान में आतंकी के रिश्तेदार के होटल पर छापेमारी

ब्रिटिश पुलिस ने सोमवार को दो हमलावरों की पहचान की थी, जिनमें एक पाकिस्तानी मूल का 27 साल का खुर्रम बट था.

176 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
लंदन हमला : पाकिस्तान में आतंकी के रिश्तेदार के होटल पर छापेमारी

ब्रिटिश पुलिस ने दो हमलावरों की पहचान की थी, जिनमें एक खुर्रम बट और दूसरा राशिद रदाउन था.

इस्लामाबाद/लंदन: पाकिस्तानी सुरक्षा एजेंसियों ने लंदन में हुए आतंकी हमले में शामिल पाकिस्तानी मूल के एक आतंकवादी के एक रिश्तेदार के होटल पर मंगलवार को छापा मारा. गत शनिवार को लंदन ब्रिज और बोरो मार्केट में हुए दोहरे आतंकी हमले में सात लोग मारे गए थे और दर्जनों घायल हो गए थे. इन्हें तीन आतंकियों ने अंजाम दिया था और तीनों बाद में पुलिस की कार्रवाई में मारे गए थे.

ब्रिटिश पुलिस ने सोमवार को दो हमलावरों की पहचान की थी, जिनमें एक पाकिस्तानी मूल का 27 साल का खुर्रम बट और दूसरा मोरक्को-लीबियाई नागरिक राशिद रदाउन था. अधिकारियों एवं मीडिया की खबरों के अनुसार मंगलवार सुबह पाकिस्तान में सादे कपड़ों में दर्जनों अधिकारियों ने पंजाब प्रांत के झेलम इलाके में ग्रैंड ट्रंक रोड पर स्थित एक होटल में तलाशी ली. होटल बट के एक रिश्तेदार का है.

'द टेलीग्राफ' की खबर के अनुसार समझा जा रहा है कि ये अधिकारी पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई के थे. उन्हें एक परिसर के बाहर देखा गया, जो इलाके के एक प्रसिद्ध कारोबारी नासिर बट का बताया जा रहा है.

घटनास्थल पर मौजूद एक अधिकारी के अनुसार ब्रिटिश अधिकारियों ने कहा कि उन्हें संदेह है कि बट में पाकिस्तान में नहीं, बल्कि ब्रिटेन में चरमपंथ का जहर भरा गया, लेकिन कहा कि वे एहतियाती उपाय के तौर पर परिजनों के घरों की तलाशी ले रहे हैं. अधिकारी ने कहा कि वे बट के रिश्तेदारों के घरों की तलाशी ले रहे हैं और परिवार के लोगों द्वारा किए गए सभी फोन कॉल का पता लगा रहे हैं.

इस्लामाबाद स्थित सूत्रों ने कहा कि किसी को गिरफ्तार नहीं किया गया है लेकिन पुलिस अधिकारियों, आतंकवाद रोधी विभाग एवं खुफिया एजेंसियों ने परिसर की गहन तलाशी ली.

समझा जाता है कि बट का जन्म झेलम इलाके में हुआ था और उसके पिता सैफ की यहां फर्नीचर की एक दुकान हुआ करती थी. बाद में सैफ 1988 में अपने परिवार के साथ ब्रिटेन चले गए.

इसी बीच, ब्रिटिश पुलिस ने मैनचेस्टर में हुए हमले में शामिल आत्मघाती हमलावर सलमान आबेदी के भाई इस्माइल आबेदी को रिहा कर दिया. उसे हमले के एक दिन बाद 23 मई को गिरफ्तार किया गया था. मैनचेस्टर एरिना में हुए हमले में सात बच्चों सहित 22 लोग मारे गए थे. ग्रेटर मैनचेस्टर पुलिस ने कहा कि पूछताछ के लिए 10 लोग अब भी हिरासत में हैं, जबकि आठ लोगों को बिना किसी मामले के रिहा कर दिया गया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement