NDTV Khabar

रोज शराब पीने से बढ़ सकता है त्वचा कैंसर का खतरा : अध्ययन

नियमित रूप से शराब पीने से गैर-मेलेनोमा त्वचा कैंसर होने का खतरा काफी अधिक

52 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोज शराब पीने से बढ़ सकता है त्वचा कैंसर का खतरा : अध्ययन

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. अमेरिका के हार्वर्ड टीएच चैन स्कूल आफ पब्लिक हेल्थ में हुआ शोध
  2. गैर-मेलेनोमा कैंसर त्वचा की ऊपरी परत में होता है
  3. एनएमएससी के कुल 95,241 मामलों का अध्ययन किया गया
बोस्टन: शराब पीने से कैंसर की चेतावनी आमतौर पर लोगों को रोजना ही मिलती है लेकिन हाल के एक अध्ययन में सामने आया है कि नियमित रूप से शराब पीने से गैर-मेलेनोमा त्वचा कैंसर होने का खतरा काफी अधिक है.
 
अमेरिका के हार्वर्ड टीएच चैन स्कूल आफ पब्लिक हेल्थ के शोधार्थियों ने शराब पीने तथा त्वचा के गैर-मेलेनोमा कैंसर (एनएमएससी) के बीच संबंध का पता लगाने के लिए विस्तृत अध्ययन किया. गैर-मेलेनोमा कैंसर त्वचा की ऊपरी परत में होने वाला कैंसर है.

यह भी पढ़ें -  स्किन कैंसर से हो सकता है पार्किंसन बीमारी का संबंध: अध्ययन

एनएमएससी श्रेणी में कई प्रकार के त्वचा कैंसर शामिल हैं, जिसमें बेसल सेल कार्सिनोमा (बीसीसी) और त्वचीय स्क्वैमस सेल कार्सिनोमा (सीएससीसी) सबसे सामान्य हैं.

यह भी पढ़ें - त्वचा के कैंसर से बचा सकते हैं एंटी-ऑक्सीडेट्स, आइए जानें कैसे...

शोधार्थियों द्वारा व्यवस्थित तरीके से एनएमएससी के कुल 95,241 मामले का अध्ययन किया गया, जिसमें से इस प्रकार के कैंसर के कुल 13 मामले शामिल थे. शोधार्थियों ने पाया कि प्रतिदिन शराब की 10 ग्राम खपत बढ़ने का संबंध बीबीसी और एसएससीसी से है. यह अध्ययन जरनल ऑफ डरमेटोलॉजी में प्रकाशित हुआ था.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement