NDTV Khabar

दक्षिण एशिया की शांति को जोखिम में डालने वाले खतरे बढ़ रहे : सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने 'साउथ एशियन एसोसिएशन फार रीजनल कोआपरेशन फारेन मिनिस्टर’ बैठक में परोक्ष रूप से पाकिस्तान को बनाया निशाना

61 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दक्षिण एशिया की शांति को जोखिम में डालने वाले खतरे बढ़ रहे : सुषमा स्वराज

सुषमा स्वराज ने कहा है कि दक्षिण एशिया की शांति एवं स्थिरता को जोखिम में डालने वाले खतरे बढ़ रहे हैं.

खास बातें

  1. बिना किसी भेदभाव के आतंकवाद का उन्मूलन किया जाए
  2. आतंकवाद का समर्थन करने वाले पारिस्थितिकी तंत्र का अंत हो
  3. क्षेत्र के विकास एवं समृद्धि को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है भारत
न्यूयॉर्क: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने परोक्ष रूप से पाकिस्तान की ओर इशारा करते हुए कहा कि दक्षिण एशिया की शांति एवं स्थिरता को जोखिम में डालने वाले खतरे एवं घटनाओं की संख्या बढ़ रही है.

सुषमा स्वराज ने शुक्रवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 72वें सत्र से इतर कहा कि शांति और सुरक्षा के माहौल में ही क्षेत्रीय समृद्धि, सम्पर्क एवं सहयोग हो सकता है.

विदेश मंत्री ने ‘साउथ एशियन एसोसिएशन फार रीजनल कोआपरेशन फारेन मिनिस्टर’ बैठक में कहा, ‘‘...दक्षिण एशिया की शांति एवं स्थिरता को जोखिम में डालने वाले खतरे और घटनाएं बढ़ रही हैं.’’

टिप्पणियां
VIDEO : पाक को करारा जवाब

विदेश मंत्रालय की ओर से जारी एक बयान में सुषमा के हवाले से कहा गया, ‘‘हमारे क्षेत्रीय अस्तित्व के लिए यह जरूरी है कि हम बिना किसी भेदभाव के आतंकवाद का उसके सभी स्वरूपों में उन्मूलन करें तथा उसका समर्थन करने वाले पारिस्थितिकी तंत्र का अंत करें.’’ उन्होंने कहा कि भारत अपनी ‘‘पड़ोस पहले’’ नीति के तहत क्षेत्र के विकास एवं समृद्धि को सर्वोच्च प्राथमिकता देता है.
(इनपुट भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement