NDTV Khabar

WHO ने जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को गुडविल एंबैसेडर पद से हटाया

डब्ल्यूएचओ से जुड़े 28 स्वास्थ्य संगठनों ने मुगाबे की नियुक्ति पर चिंता जाहिर की थी. इनका कहना है कि मुगाबे के समय में जिम्बाब्वे में अन्य क्षेत्रों की ही तरह स्वास्थ्य का भी बुरा हाल है. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
WHO ने जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे को गुडविल एंबैसेडर पद से हटाया

जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. मुगाबे की नियुक्ति के बाद दुनियाभर में इसकी आलोचना हुई
  2. WHO के स्वास्थ्य संगठनों ने उनकी नियुक्ति पर चिंता जताई थी
  3. इनका कहना है कि मुगाबे के समय में स्वास्थ्य का भी बुरा हाल है
संयुक्त राष्ट्र: विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने रविवार को जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे की गुडविल एंबैसेडर पद पर की गई नियुक्ति को रद्द कर दिया. मुगाबे की नियुक्ति के बाद से ही दुनियाभर में इसकी आलोचना हो रही थी.

यह भी पढ़ें :देश में बच्चों को तेजी से गिरफ्त में ले रहा अस्थमा, WHO चिंतित

टिप्पणियां
न्यूयार्क टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस एडनोन ने कहा कि मुगाबे की नियुक्ति के बाद तमाम प्रतिक्रियाओं पर उनकी नजर थी. उन्होंने कहा कि इस मुद्दे पर जिम्बाब्वे सरकार से भी सलाह-मशविरा किया गया और उसके बाद यह फैसला किया गया. इथियोपिया के ट्रेडोस ने बुधवार को गैर संक्रामक रोगों से संबद्ध उरुग्वे में एक सम्मेलन के मौके पर मुगाबे की नियुक्ति की घोषणा की थी. उन्होंने कहा था कि मुगाबे के शासनकाल में जिम्बाब्वे में स्वास्थ्य के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य हुआ है. उन्होंने यह भी कहा था कि मुगाबे इलाके में अपने प्रभाव का सकारात्मक इस्तेमाल कर सकते हैं.

VIDEO:  दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में तीन भारत के : WHO रिपोर्ट

इसकी पूरी दुनिया में आलोचना हुई. डब्ल्यूएचओ से जुड़े 28 स्वास्थ्य संगठनों ने मुगाबे की नियुक्ति पर चिंता जाहिर की थी. इनका कहना है कि मुगाबे के समय में जिम्बाब्वे में अन्य क्षेत्रों की ही तरह स्वास्थ्य का भी बुरा हाल है. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement