NDTV Khabar

रोहिंग्या मुद्दा : म्यांमार की नेता आंग सान सू ची से ऑक्सफोर्ड सम्मान लिया गया वापस

सोमवार को परिषद ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया कि आंग सान सू ची के पास यह सम्मान होना अब उपयुक्त नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रोहिंग्या मुद्दा : म्यांमार की नेता आंग सान सू ची से ऑक्सफोर्ड सम्मान लिया गया वापस

म्यांमार की नेता आंग सान सू ची (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. सू ची द्वारा कथित समुचित कदम नहीं उठाने पर सम्मान वापस ले लिया गया है.
  2. वर्ष 1997 में ‘ फ्रीडम ऑफ ऑक्सफोर्ड’ सम्मान मिला था.
  3. सू ची का सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड से गहरा नाता रहा है.
लंदन: सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड द्वारा म्यांमार की नेता आंग सान सू ची को दिया गया सम्मान उनके देश में रोहिंग्या मुसलमानों की दुर्दशा पर उनके द्वारा कथित समुचित कदम नहीं उठाने पर वापस ले लिया गया है. ऑक्सफोर्ड सिटी काउंसिल ने म्यांमार की इस नेता को लोकतंत्र के लिए लंबा संघर्ष करने को लेकर वर्ष 1997 में ‘ फ्रीडम ऑफ ऑक्सफोर्ड’ प्रदान किया था. सोमवार को परिषद ने सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया कि उनके पास यह सम्मान होना अब उपयुक्त नहीं है.

यह भी पढ़ें : संयुक्त राष्ट्र ने म्यांमार से कहा, रोहिंग्या समुदाय के खिलाफ हमले बंद करे

ऑक्सफोर्ड सिटी काउंसिल के नेता बॉब प्राइस ने उनका सम्मान वापस लेने के कदम का स्वागत किया और इस बात की पुष्टि की कि यह स्थानीय प्रशासन के लिए ‘अप्रत्याशित कदम है.’ सिटी काउंसिल इस बात के सत्यापन के लिए 27 नवंबर को एक विशेष बैठक करेगी कि यह सम्मान वापस लिया जाए. नोबेल शांति पुरस्कार विजेता सू ची का सिटी ऑफ ऑक्सफोर्ड से गहरा नाता रहा है. वह अपने परिवार के साथ पार्क टाउन में रह चुकी हैं और वह 1964-67 के दैरान सेंट ह्यू कॉलेज गयी थीं. सिटी काउंसिल के इस कदम से पहले सेंट ह्यू कॉलेज अपने प्रवेश द्वार से उनकी तस्वीर हटा चुका है. वैसे तस्वीर हटाने का कारण समायोजन बताया जा रहा है लेकिन ऐसी भी सोच है कि रोहिंग्या मुसलमानों का सफाया इसकी वजह हो सकती है.

टिप्पणियां
VIDEO : रोहिंग्या मुसलमानों के मुद्दे पर अंतरराष्ट्रीय दबाव में नहीं आएंगे : आंग सान सू ची​
म्यांमार में सेना के अभियान के बाद करीब पांच लाख रोहिंग्या मुसलान विस्थापित हो गये हैं.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement