NDTV Khabar

रूस अग्निकांड: आग की लपटों के बीच फंसे स्कूली छात्रों ने अपने अभिभावक को किया फोन, कहा- 'गुडबॉय'

रूस के आपात सेवा मंत्री व्लादिमिर पुत्श्कोव केमेरोवो ने एक टेलीविज़न ब्रीफिंग में कहा कि मॉल की चौथी मंजिल पर लगी आग पर नियंत्रण पाने के बाद 64 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रूस अग्निकांड: आग की लपटों के बीच फंसे स्कूली छात्रों ने अपने अभिभावक को किया फोन, कहा- 'गुडबॉय'

प्रतीकात्मक चित्र

नई दिल्ली:

रूस के साइबेरिया के एक मॉल में लगी आग ने कई परिवारों से उनके लाडले छीन लिए. आग की लपटे शांत होने के बाद शुरू हुई जांच में कई चौकाने और भावुक करने वाली बाते सामनें आ रही हैं. इस घटना में अपनी जान गंवाने वालों में बड़ी संख्या स्कूल बच्चों की है. जांच के दौरान पता चला है कि खुदको आग की लपटों में घिरा पाने के बाद कई स्कूली बच्चों ने अपने अभिभावकों को फोन किया और उन्हें खुदके आग के बीच फंसे होने की सूचना देने के साथ आखिरी 'गुडबॉय' कहा. बीते दो दिन से रूस में सोशल मीडिया पर ऐसे कई मैसेज चल रहे हैं जो खुद इस अग्निकांड में जान गंवाने वाले बच्चों ने मौत से चंद मिनट पहले पोस्ट किया था. ऐसे ही एक मैसेज में 13 वर्षीय मारिया ने लिखा था कि ' हम सब जल रहे हैं, हो सकता है यह आखिरी 'गुडबॉय' हो'. एक स्थानीय चैलन के मुताबिक 'गुडबॉय' के ऐसे ही कुल 30 अलग-अलग मैसेज अलग-अलग एकाउंट से किए. इन एकाउंट को बाद में वह बच्चे दोबारा नहीं खोल पाए.

यह भी पढ़ें: साइबेरिया के शॉपिंग मॉल में लगी आग, मृतकों की संख्या 64 हुई


रूस के टीवी के रिपोर्ट के अनुसार इस घटना में जान गंवाने वाले बच्चों की पुख्ता सूची अभी तक तैयार नहीं की जा सकी है लेकिन कई अभिभावक अभी इस उम्मीद में हैं कि उनके बच्चे का नाम मरने वालों की सूचना से हटा दिया जाएगा. ध्यान हो कि इस मॉल में रविवार दोपहर एकाएक आग लग गई थी. स्कूल में ब्रेक होने की वजह से स्कूल प्रशासन बच्चों को फिल्म दिखाने के लिए इस मॉल में आया था. आग लगने के बाद सभी बच्चे अंदर फंस गए. येवजानिया नाम की एक महिला ने स्थानीय अखबार को बताया कि उसकी भतीजी विका भी इस हादसे का शिकार हुई है. उन्होंने बताया कि सिनेमा हॉल में आग लगने के बाद विका ने उन्हें फोन किया था और बताया था कि सिनेमा हॉल के अंदर सभी दरवाजे बंद हो गए हैं और बाहर निकलने का कोई रास्ता नहीं है.

यह भी पढ़ें: यहां पड़ रही है दुनिया की सबसे ज्यादा ठंड, -62 डिग्री में देखें लोगों की कैसी हुई हालत

चारों तरफ आग की लपटें फैल चुकी हैं और उसे सांस लेने में खासी दिक्कत हो रही है. येवजानिया ने बताया कि मैनें विका को फोन पर कहा कि वह अपने सारे कपड़े उतार कर उसे अपने मुंह और नाक के पास रख लें और सांस लेने की कोशिश करे. उन्होंने बताया कि विका ने अपने आखिरी संदेश में कहा था कि मैं उसकी मां को बताऊं की वह उससे बहुत प्यार करती है. गौरतलब है कि रविवार को साइबेरिया के औद्योगिक शहर स्थित एक शॉपिंग मॉल में आग लग गई थी. इस घटना में कुल 64 लोगों की मौत हुई थी, जबकि कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे.

टिप्पणियां

VIDEO: कौन है ये लेनिन, आइये जानते हैं जरा.

रूस के आपात सेवा मंत्री व्लादिमिर पुत्श्कोव केमेरोवो ने एक टेलीविज़न ब्रीफिंग में कहा कि मॉल की चौथी मंजिल पर लगी आग पर नियंत्रण पाने के बाद 64 लोगों की मौत की पुष्टि हुई है. पुत्श्कोव ने कहा कि छह शव अभी बरामद नहीं हुए हैं और मारे जाने वाले लोगों में कितने बच्चे हैं इसकी तत्काल जानकारी नहीं दी जा सकती. घटना की जांच में जुटे अधिकारियों के अनुसार अभी तक आग लगने के कारणों का पता नहीं चल सका है. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement