NDTV Khabar

अमेरिका, इस्राइल से नई दिल्ली की नजदीकी बढ़ने के बावजूद भारत से रूस के संबंध मजबूत

रूस ने कहा - भारत को कुछ रक्षा उत्पाद और प्रौद्योगिकी मॉस्को के अलावा कोई और नहीं दे सकता

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिका, इस्राइल से नई दिल्ली की नजदीकी बढ़ने के बावजूद भारत से रूस के संबंध मजबूत

रूस ने कहा है कि भारत की अन्य देशों से करीबी के बाद भी उससे रणनीतिक साझेदारी बनी रहेगी.

खास बातें

  1. दूसरे देशों से संबंध बनने का मतलब रूस से संबंध खत्म होना नहीं
  2. भारत के साथ रूस का सहयोग जारी रहेगा
  3. रूस हमेशा से भारत का रणनीतिक साझीदार रहा है और रहेगा
जुकोवस्की (रूस):

अमेरिका सहित अन्य देशों से भारत के गहरे होते रिश्तों के बावजूद रूस भारत का रणनीतिक साझीदार बना रहेगा. रूस का कहना है कि भारत को कुछ रक्षा उत्पाद और प्रौद्योगिकी सिर्फ रूस ही दे सकता है.
 
रूस के एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि अमेरिका, फ्रांस और इस्राइल जैसे देशों के साथ नई दिल्ली की बढ़ती नजदीकियों के बावजूद रूस हमेशा भारत का रणनीतिक साझीदार बना रहेगा क्योंकि कुछ खास रक्षा उत्पाद और प्रौद्योगिकी ‘मॉस्को के अलावा कोई और नहीं दे सकता.’

यह भी पढ़ें-  भारत को 48 एमआई-17 हेलीकॉप्टरों की आपूर्ति कुछ महीनों में करेगा रूस

रोस्टेक स्टेट कॉर्पोरेशन के सीईओ सर्गेई केमजोव ने कहा कि भारत के साथ सहयोग जारी रहेगा, फिर चाहे भारत केवल रूस के साथ सहयोग रखे या साथ ही साथ इस्राइल, फ्रांस, अमेरिका और अन्य देशों के साथ भी सहयोग रखे.


यह भी पढ़ें- भारतीय वायुसेना को अपना सबसे आधुनिक लड़ाकू विमान मिग-35 बेचने का इच्छुक है रूस

यह भी पढ़ें - विमान तथा वाहन विनिर्माण के लिए भारत-रूस बनाएंगे संयुक्त उपक्रम

रूस के प्रमुख एयर शो एमएकेएस 2017 से इतर केमजोव ने कहा, ‘‘हमारा अलग महत्व है, इन देशों की सहयोग की अपनी दिशा है. इसलिए इसका मतलब यह नहीं है कि भारत अगर किसी दूसरे देश के साथ काम करता है तो, रूस के साथ संबंध समाप्त हो जाएंगे. नहीं..’’

VIDEO : रूस के साथ रक्षा सहयोग

टिप्पणियां

अन्य देशों के साथ भारत के बढ़ते रक्षा सहयोग के भारत-रूस सहयोग पर पड़ने वाले प्रभावों के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘कुछ ऐसे रक्षा उत्पाद और प्रौद्योगिकी हैं, जो रूस के अलावा कोई और नहीं दे सकता. इसलिए रूस हमेशा से भारत का रणनीतिक साझीदार रहा है और रहेगा.’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement