सऊदी अरब और सहयोगियों ने कतर से जुड़ी 'आतंकवाद की सूची' जारी की

सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और मिस्र ने बयान में कहा है कि यह फेहरिस्त कतर से जुड़ी है और कतर की नीतियों के दोहरेपन का संकेत देने वाले संदिग्ध एजेंडे दर्शाती है.

सऊदी अरब और सहयोगियों ने कतर से जुड़ी 'आतंकवाद की सूची' जारी की

रियाद:

दोहा के साथ अपने रिश्ते तोड़ने वाले सऊदी अरब और उसके सहयोगियों ने 'आतंकवाद' के सिलसिले में कतर से जुड़े व्यक्तियों और संस्थाओं की एक सूची जारी की है. सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और मिस्र ने बयान में कहा है कि यह फेहरिस्त कतर से जुड़ी है और कतर की नीतियों के दोहरेपन का संकेत देने वाले संदिग्ध एजेंडे दर्शाती है.

उन्होंने कहा कि यह सूची दिखाती है कि कतर एक तरफ तो आतंकवाद से लड़ाई का ऐलान करता है जबकि दूसरी ओर वह विभिन्न आतंकी संगठनों का वित्तपोषण, समर्थन और मेजबानी करता है. अमेरिका के विदेश मंत्रालय की एक पूर्व रिपोर्ट के मुताबिक, सूची में कम से कम दो नाम ऐसे हैं जिनको पहले ही आतंकवाद का वित्तपोषण करने वालों की अंतरराष्ट्रीय सूची में शामिल किया गया था और इनके खिलाफ कतर ने कार्रवाई की थी.

ये दो व्यक्ति साद अल काबी और अब्द अल लतीफ अल कवारी हैं. इन दोनों का नाम शुक्रवार को सऊदी अरब और इसके तीन सहयोगियों की ओर से जारी की गई फेहरिस्त में शामिल है. उन्होंने कहा कि चार देश अपनी आतंकवाद की सूची में 59 व्यक्तियों और 12 संस्थाओं को डालने पर सहमत हुए हैं. उन्होंने पुष्टि की है कि वे ऐसे व्यक्तियों और समूहों पर कार्रवाई में नरमी नहीं बरतेंगे.

इस मसले पर कतर ने प्रतिक्रिया देते हुए सऊदी अरब और उसके सहयोगियों की आलोचना की, उनकी आतंकी सूची को 'आधारहीन' करार दिया.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com