NDTV Khabar

शिंजो आबे ने कहा, उत्तर कोरिया के खतरे के बीच रक्षा प्रावधानों को मजबूत करेगा जापान

प्रधानमंत्री शिंजो आबे का कहना है कि उनके देश को द्वितीय विश्व युद्ध के बाद उत्तर कोरिया से सबसे ज्यादा खतरे का सामना करना पड़ रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शिंजो आबे ने कहा, उत्तर कोरिया के खतरे के बीच रक्षा प्रावधानों को मजबूत करेगा जापान

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. उत्तर कोरिया के खतरे के बीच रक्षा प्रावधानों को मजबूत करेगा जापान
  2. 'द्वितीय विश्व युद्ध के बाद जापान को उत्तर कोरिया से सबसे ज्यादा खतरा'
  3. शिंजो आबे ने कहा, रक्षा कवायदों को मजबूत करने का संकल्प लिया
टोक्यो: प्रधानमंत्री शिंजो आबे का कहना है कि उनके देश को द्वितीय विश्व युद्ध के बाद उत्तर कोरिया से सबसे ज्यादा खतरे का सामना करना पड़ रहा है. उन्होंने रक्षा कवायदों को मजबूत करने का संकल्प लिया. संसद में आज अपनी नीतियों पर संबोधन में प्राथमिकताएं गिनाते हुए आबे ने उत्तर कोरिया की ओर से छठी बार परमाणु परीक्षण और जापान के ऊपर से मिसाइल गुजरने को ‘राष्ट्रीय संकट’ बताया.

यह भी पढ़ें: उत्तर कोरिया की मिसाइल जापान के ऊपर से गुजरी, शिंजो आबे ने कहा- बर्दाश्त नहीं करेंगे

टिप्पणियां
आबे ने कहा कि प्योंगयांग की ओर से ‘भड़काने’ के बीच किसी भी आपात स्थिति से मुकाबले के लिए जापान-अमेरिका संबंध के तहत जापान ‘ठोस कार्रवाई’ करेगा. वर्ष 2012 में आबे के कार्यभार संभालने के बाद से रक्षा पर जापान का खर्च तेजी से बढ़ा है. चुनाव में अपनी शानदार जीत के बाद अपने पहले नीतिगत संबोधन में आबे ने कहा कि जापान के शांतिवादी संविधान संशोधन में प्रगति को लेकर वह ‘आश्वस्त’ हैं. 

VIDEO: बुलेट ट्रेन की पाठशाला: भारत की पहली बुलेट ट्रेन में 'मेक इन इंडिया' पर भी जोर
संसद में उन्होंने कहा, ‘‘मैं आश्वस्त हूं कि संविधान संशोधन पर बहस आगे बढ़ेगी.’ आबे संविधान में बदलाव करना चाहते हैं, ताकि पूर्ण रूपेण सेना के जापान के अधिकार की पुष्टि हो सके.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement