NDTV Khabar

200 कामोव 226टी हेलीकाप्टरों के लिए अनुबंध पर हस्ताक्षर 2018 की पहली तिमाही में होंगे

उन्होंने कहा, ‘हमारी भारतीय रक्षा मंत्री से उन हेलीकाप्टरों की जरूरतों और विशेषताओं के बारे में बात हुई थी जिनकी आपूर्ति किया जाना वांछित है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
200 कामोव 226टी हेलीकाप्टरों के लिए अनुबंध पर हस्ताक्षर 2018 की पहली तिमाही में होंगे

(फाइल फोटो)

खास बातें

  1. कहा, अनुबंध पर हस्ताक्षर 2017 के अंत में होगा
  2. कहा, मेरे विचार से हम इन मानकों को मंजूर करने के अंतिम चरण में हैं
  3. संयुक्त उपक्रम अनुबंध पर हस्ताक्षर 2018 की पहली तिमाही में होने की उम्मीद
उलन उदे (रूस):

रूसी हेलीकाप्टर कंपनी के सीईओ ने शुक्रवार को कहा कि भारतीय सशस्त्र बलों के लिए 200 कामोव 226टी हेलीकाप्टरों के उत्पादन के लिए भारत रूस संयुक्त उपक्रम अनुबंध पर हस्ताक्षर 2018 की पहली तिमाही में होने की उम्मीद है. आंद्रे बोगिनिस्की ने यहां आए एक विदेशी मीडिया प्रतिनिधिमंडल से कहा, ‘हां, मैंने (पहले के) अपने साक्षात्कारों में उल्लेख किया था कि अनुबंध पर हस्ताक्षर 2017 के अंत में होगा. क्योंकि मेरे विचार से रूस ने अनुबंध के लिए जरूरी सभी कार्यों के लिए इंतजार किया.’

यह भी पढ़ें : अंधड़ के कारण सेना का हेलीकाप्टर आपात स्थिति में उतरा


उन्होंने कहा, ‘हमारी भारतीय रक्षा मंत्री से उन हेलीकाप्टरों की जरूरतों और विशेषताओं के बारे में बात हुई थी जिनकी आपूर्ति किया जाना वांछित है. मेरे विचार से हम इन मानकों को मंजूर करने के अंतिम चरण में हैं और मैं केवल यही उम्मीद कर सकता हूं कि यह समझौता 2018 की पहली तिमाही में हस्ताक्षरित होगा.

ऐसा इसलिए क्योंकि हम समझते हैं कि इसका इस वर्ष हस्ताक्षर होना अव्यावहारिक है.’ गत वर्ष अक्तूबर में रूसी हेलीकाप्टर रोसोबोरोनएक्सपोर्ट और भारत के एचएएल कोर्प ने केए226टी के उत्पादन को स्थानीय करने और उनकी आपूर्ति भारतीय बाजार में करने के लिए संयुक्त उपक्रम की औपचारिकताओं को लगभग पूरा कर लिया था.

टिप्पणियां

VIDEO : अरुणाचल प्रदेश में वायुसेना के क्रैश हुए हेलीकॉप्‍टर का वीडियो कैमरे में कैद​

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement