ओरलैंडो गोलीबारी से खौफजदा हैं अमेरिका के सिख, सता रहा प्रतिक्रिया में हिंसा का डर

ओरलैंडो गोलीबारी से खौफजदा हैं अमेरिका के सिख, सता रहा प्रतिक्रिया में हिंसा का डर

अफगान मूल के उमर मतीन ने गे क्लब पर गोलीबारी की जिसमें 50 लोग मारे गए थे।

वाशिंगटन:

अमेरिका में हर बड़े आतंकी हमले के बाद घृणा अपराधों का सामना करने वाले सिखों को अब ओरलैंडो के गे क्लब में गोलीबारी की घटना के बाद प्रतिक्रिया में हिंसा होने का डर सता रहा है, हालांकि ओबामा प्रशासन ने उनकी सुरक्षा का भरोसा दिलाया है।

सिख समुदाय के बीच बढ़ती चिंता को खत्म करने का प्रयास करते हुए व्हाइट हाउस ने सिखों से मुलाकात करने और उनकी सुरक्षा का भरोसा दिलाने के लिए अपनी एक वरिष्ठ अधिकारी को वाशिंगटन डीसी के उपनगरीय इलाके में स्थित एक गुरुद्वारे भेजा। मैरीलैंड में सबसे पुराने गुरुद्वारे ‘गुरु नानक फाउंडेशन ऑफ अमेरिका’ में सिख समुदाय के लोगों से बातचीत करने के बाद व्हाइट हाउस में घरेलू नीति परिषद की निदेशक सेसिलिया मुनोज ने से कहा, 'हम जानते हैं कि इस समय समुदाय के भीतर डर है।' वह सिख समुदाय के लोगों के साथ ‘संगत’ में भी शामिल हुईं।

Newsbeep

उन्होंने कहा, 'मैंने उस काम के बारे में लोगों को बताया जो संघीय सरकार यह सुनिश्चित करने के लिए कर रही है कि हर बच्चा सुराक्षित हो, हर व्यक्ति सुरक्षित हो, चाहे वह पढ़ाई कर रहा है, पूजा स्थल पर हो या फिर काम के स्थल पर हो।' गुरुद्वारे का उनका दौरा कुछ दिन पहले तय हो गया था, लेकिन ओरलैंडो की घटना के बाद इसका महत्व इस मायने में बढ़ गया कि सिख समुदाय में नए सिरे से डर बैठ गया। गौरतलब है कि अफगान मूल के बंदूकधारी उमर मतीन ने गे क्लब पर गोलीबारी की जिसमें 50 लोग मारे गए और 53 घायल हो गए।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)