घर में सिगरेट पीने पर होगी जेल, इस देश में स्मोकर पर चलेगा 'घरेलू हिंसा' का केस

थाईलैंड में लागू हुए इस नए कानून के बाद अब वहां के लोग अपने घरों में भी सिरगेट नहीं पी सकते. क्योंकि घर में स्मोकिंग करने पर शख्स पर 'डोमैस्टिक वॉयलेंस' (घरेलू हिंसा) का केस लगाया जाएगा.

घर में सिगरेट पीने पर होगी जेल, इस देश में स्मोकर पर चलेगा 'घरेलू हिंसा' का केस

इस देश में सिगरेट पीने पर अब होगी जेल

खास बातें

  • सिगरेट पीने पर अब होगी जेल
  • इस देश में आया नया कानून
  • घरेलू हिंसा का लगेगा आरोप
थाईलैंड:

'Smoking is injurious to health' यानी धुम्रपान सेहत के लिए हारिकारक है. ये लाइन आपने मूवीज़ से पहले, ऑफिस में, रास्ते में मौजूद खंभों जैसे तमाम पब्लिक जगहों पर देखी होंगी. कई जगहों या देशों में पब्लिक में स्मोकिंग करने पर भारी जुर्माना लगाया जाता है, इससे बचने के लिए लोग अपने घरों में सिगरेट पीते हैं. लेकिन थाईलैंड में लागू हुए इस नए कानून के बाद अब वहां के लोग अपने घरों में भी सिरगेट नहीं पी सकते. क्योंकि घर में स्मोकिंग करने पर शख्स पर 'डोमैस्टिक वॉयलेंस' (घरेलू हिंसा) का केस लगाया जाएगा.

डब्लूएचओ के मुताबिक हर साल स्मोकिंग 6 लाख लोगों की जान लेती है. इसमें से 60% सिर्फ बच्चे होते हैं, जो सिगरेट और सिगार के धुएं की चपेट में आकर अपनी जान गंवा बैठते हैं. घर में मौजूद बच्चों और परिवार वालों की सेहत का ख्याल रखने के लिए थाईलैंड सरकार घर में धुम्रपान करने वाले शख्स पर घरेलू हिंसा का केस दर्ज करेगी.

गुलाबी है इस झील का पानी, बार-बार देखे जा रहे हैं Photos और Video

फैमिली प्रोटेक्शन एंड डेवलेपमेंट प्रोमोशन एक्ट के तहत इस कानून को लाया गया है. इस कानून के तहत घर में स्मोकिंग घरेलू हिंसा के बराबर मानी जाएगी. 

बैंकॉक में हुई टबैकू एंड लंग हेल्थ कॉन्फ्रेंस के दौरान वुमन्स अफेयर्स एंड फैमिली डेवलेपमेंट की चीफ लेर्टपान्या बूरानाबंडित (Lertpanya Booranabundit) ने बताया कि परिवार के किसी सदस्य की सेंकड या थर्ड हैंड स्मोक से सेहत खराब होती है तो धुम्रपान करने वाले शख्स पर केस दर्ज किया जाएगा. धुम्रपान वाले ये केस क्रिमिनल कोर्ट और सेंट्रल जुवेनाइल एंड फैमिली कोर्ट में देखें जाएंगे. परिवार के सदस्यों की सेहत को दुरुस्त करने के लिए धुम्रपान वाले व्यक्ति को पुनर्वास केंद्र में भेजा जाएगा.

अचानक हवा में उड़ने लगे गद्दे, होश उड़ा देने वाला VIDEO हुआ वायरल

द पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक धुम्रपान की लत इमोशनल और फिज़िकल वॉयलेंस का कारण बनती है. वहीं, आगे बताया गया कि 4.9 मिलियन घरों में कोई ना कोई स्मोक करता ही है. 10.3 लाख लोगों को परिवार के सदस्य में मौजूद स्मोकर की वजह से आगे चलकर धुम्रपान की लत लग जाती है. 

Newsbeep

थाईलैंड के अलग-अलग सेंटर्स में धुम्रपान के केस देखें जाएंगे. पहले पुलिस पुरी जांच-पड़ताल करेगी और फिर एक्शन लेगी.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


ग्लेशियर के पास घूम रहे थे लोग, बर्फ में हुआ अचानक धमाका और... देखें VIDEO