रूस के ‘मैक्स’ एयर शो में लड़ाकू विमान मिग-35 पर जमीं निगाहें

रूसी मीडिया मिग-35एस बहुद्देशीय विमान को इस एयर शो के प्रमुख आकर्षण के तौर पर पेश कर रही है. यह इस श्रेणी का 13वीं पीढ़ी का विमान है.

रूस के ‘मैक्स’ एयर शो में लड़ाकू विमान मिग-35 पर जमीं निगाहें

झुकोवस्की(रूस):

रूस के प्रमुख अंतरराष्ट्रीय एयर शो एमएकेएस (मैक्स) की मंगलवार को शुरुआत हुई और इसमें मिग-35 युद्धक विमान आकर्षण का केंद्र है. इस एयर शो में 180 विदेशी कंपनियां भाग ले रही हैं जिनमें भारत की कपंनियां भी शामिल हैं. रोस्टेक स्टेट कॉरपोरेशन में अंतरराष्ट्रीय सहयोग और क्षेत्रीय नीति विभाग के प्रमुख विक्टर निकोलायेविच क्लादोव ने बताया कि यहां 10 राष्ट्रीय पवेलियन बनाए गए हैं और इस एयर शो में हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड, लार्सन एंड टर्बो जैसी भारतीय कंपनियां और दूसरी अन्य कंपनियां भाग ले रही हैं.

क्लादोव ने समारोह से पहले कहा, ‘‘यह विश्व स्तर पर होने वाले चार सबसे बड़े एयरशो में से एक है. यह एक बड़ा एयरशो है. रूस की करीब 800 कंपनियां और 37 देशों की 180 कपंनियां भाग ले रही हैं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम ‘का-226’ हेलीकॉप्टर के विनिर्माण को लेकर संयुक्त उपक्रम और दूसरी रक्षा परियोजनाओं के बारे में बात करेंगे.’’ भारत के साथ किसी परियोजना के बारे में पूछे जाने पर क्लादोव ने कहा वे ‘सर्वविदित’ हैं.

रूसी मीडिया मिग-35एस बहुद्देशीय विमान को इस एयर शो के प्रमुख आकर्षण के तौर पर पेश कर रही है. यह इस श्रेणी का 13वीं पीढ़ी का विमान है. समाचार एजेंसी तास के अनुसार मिग एयरक्रॉफ्ट की मुख्य कार्यकारी अधिकारी इलया तारासेंको ने शो से कुछ दिन पहले कहा था, ‘‘हम मिग-35 विमान को मैक्स-2017 एयर शो में पेश करेंगे. हमारी निर्यात को लेकर बातचीत की योजना भी है.’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com