श्रीलंका ने जारी की संदिग्ध हमलावरों की तस्वीर, जिनकी वजह से गई 250 से ज्यादा लोगों की जान

श्रीलंका की सुरक्षा एजेंसियों ने ईस्टर धमारों के संदिग्धों की तस्वीर जारी की है. श्रीलंका द्वारा 6 संदिग्ध हमलावरों की तस्वीर को जारी किया गया है,

श्रीलंका ने जारी की संदिग्ध हमलावरों की तस्वीर, जिनकी वजह से गई 250 से ज्यादा लोगों की जान

Sri lanka ने जारी की संदिग्धों की तस्वीरें

नई दिल्ली:

श्रीलंका की सुरक्षा एजेंसियों ने ईस्टर धमारों के संदिग्धों की तस्वीर जारी की है. श्रीलंका द्वारा 6 संदिग्ध हमलावरों की तस्वीर को जारी किया गया है, जिसमें 3 महिलाएं भी शामिल हैं. जानकारी के मुताबिक इन धमाकों के मद्देनजर श्रीलंकन एजेंसियों ने 16 लोगों को गिरफ्तार किया है. एजेंसियों का दावा है कि आत्मगाथी हमलावरों में 9 आतंकी, स्थानीय संगठन एनटीजे के हो सकते हैं. शक हैं कि इन्हीं आतंकियों की मदद से विनाशकारी विस्फोटक चर्च और होटल के अंदर तक पहुंचाए गए थे. जांच पड़ताल के बाद पुलिस ने संदिग्धों के नाम, तस्वीर व अन्य जानकारी जनता के साथ साझा की है. हालांकि इस हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस आतंकी संगठन ने ली है.

भारत ने 10 दिन पहले ही आंतकियों के नाम, ठिकाने और टारगेट बताए, फिर भी सतर्क नहीं हुआ श्रीलंका

 वहीं श्रीलंका ने ईस्टर के दिन हुए विस्फोटों में मृतकों की संख्या में संशोधन किया है. अब यह संख्या करीब 253 बताई जा रही है. स्वास्थ्य मंत्रालय ने यह जानकारी दी हैं. बता दें कि प्रशासन ने इससे पहले बताया था कि नौ आत्मघाती हमलावरों ने इन हमलों को अंजाम दिया था, जिसमें 359 लोगों की मौतें हुई और 500 से अधिक घायल हो गए. ऐसा संदेह किया जा रहा है कि इस हमले में स्थानीय इस्लामी चरमपंथी संगठन नेशनल तौहीद जमात (एनटीजे) का हाथ है। हालांकि, अब स्वास्थ्य सेवा के महानिदेशक डॉक्टर अनिल जयसिंघे ने बताया कि पहले वाली संख्या गिनती में गलती होने की वजह से बताई गई थी. उन्होंने कहा कि इस हमले में मृतकों की संख्या लगभग 253 होगी, न कि मीडिया में आई खबरों के अनुसार 359 है. जयसिंघे ने बताया कि कम से कम 485 घायल लोगों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है. इसी बीच, विदेश मंत्रालय ने बताया कि 11 भारतीय लोगों समेत 40 विदेशी नागरिकों की मौत इस हमले में हुई. 

Sri Lanka Bomb Blast: मारा गया बांग्लादेश की पीएम शेख हसीना का 'नाती', कर रहा था नाश्ता और खत्म हो गया सबकुछ

इस हादसे के बाद श्रीलंका में लोग दहशत में हैं. इस बीच, प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे ने आगाह किया है कि देश में और हमले होने की आशंका बनी हुई है, ऐसे में अब आतंकियों के स्लीपर सेल को टारगेट किया जा रहा है, जो किसी भी वक्त एक बार फिर देश में सीरियल ब्लास्ट को अंजाम दे सकते हैं. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com