स्विटजरलैंड ने जारी की 60 साल से इस्‍‍तेमाल नहीं हो रहे खातों की सूची, 4 भारतीय भी शामिल

स्विटजरलैंड ने जारी की 60 साल से इस्‍‍तेमाल नहीं हो रहे खातों की सूची, 4 भारतीय भी शामिल

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

नई दिल्‍ली:

स्विट्ज़रलैंड ने बुधवार को कुछ ऐसे बैंक खातों की लिस्ट सार्वजनिक की, जो पिछले 60 साल से इस्तेमाल में नहीं हैं, और उनके दावेदार भी सामने नहीं आए हैं। समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक इस लिस्ट में चार खाताधारक भारतीय हैं।

गौरतलब है कि पिछले ही महीने एचएसबीसी बैंक के पूर्व कर्मचारी और सचेतक हर्व फैल्सियानी, जिसने 2008 में बैंक में काले धन से जुड़े कई खातों की जानकारी सार्वजनिक की थी, को स्विस अदालत ने पांच साल कैद की सजा सुनाई थी। उस समय सार्वजनिक किए गए खातों में भी कुछ खाते भारतीयों के थे। सजा के ऐलान के बाद NDTV से बातचीत में फैल्सियानी ने कहा था कि इससे कुछ फर्क नहीं पड़ेगा। जहां तक संभव होगा, पूरा सहयोग करूंगा।

स्विटजरलैंड की बेल्लिनजोना फेडरल क्रिमिनल कोर्ट में हर्व फैल्सियानी पर तीन आरोप लगाए गए थे। इसमें डेटा चोरी, औद्योगिक जासूसी और बैंक की गोपनीयता बरकरार रखने की शर्त को तोड़ना शामिल था। पूरा मुकदमा फैल्सियानी की गैर-मौजूदगी में चला, क्योंकि वह मुकदमे में मौजूद नहीं रहना चाहता था।

उल्लेखनीय है कि छह साल पहले फैल्सियानी ने गुप्त खातों की एक सूची जारी की थी, जिसमें 600 नाम भारतीयों के थे। हर्व ने तब NDTV से खास बातचीत में कहा था कि वह तमाम देशों की मदद कर रहा है और वह भारत की भी मदद करना चाहता है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com