NDTV Khabar

अमेरिकी आक्रामकता का अब जवाब देंगे सीरिया के सहयोगी

5 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिकी आक्रामकता का अब जवाब देंगे सीरिया के सहयोगी

सीरियाई सेना का जवान.

दमिश्क: सीरिया में स्थित रूस-ईरान संयुक्त अभियान कक्ष ने रविवार को कहा कि सीरिया के सहयोगी दमिश्क के खिलाफ किसी भी आक्रामकता का कड़ा जवाब देंगे. उन्होंने कहा कि सीरिया और यहां के लोगों की संप्रभुता पर अमेरिकी हमला एक खतरनाक उदाहरण है. समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, एक बयान में कहा गया है, "अमेरिका ने सीरिया पर हमला कर के सारी सीमा पार कर दी है और अब से हम किसी भी पक्ष द्वारा किसी भी आक्रामकता का मुंहतोड़ जवाब देंगे और अमेरिका प्रतिक्रिया करने की हमारी क्षमता से भलीभांति परिचित है."

बयान में कहा गया है कि सीरिया सरकार के सहयोगियों ने सीरियाई हवाईअड्डे पर अमेरिका के मिसाइल हमले के बाद सीरियाई सेना को अपनी मदद बढ़ा दी है.

सीरिया सरकार के अनुसार, अमेरिका ने गुरुवार को होम्स प्रांत के शायरात हवाईअड्डे को लगभग 60 टॉमहॉक मिसाइलों से निशाना बनाया, जिसमें छह सीरियाई सैनिक और नौ नागरिक मारे गए. मृतकों में चार बच्चे भी शामिल थे. इस हमले में नौ युद्धक विमान नष्ट हो गए. अमेरिकी सरकार ने कहा कि हवाईअड्डे पर यह हमला खान शेखौन कस्बे में मंगलवार को सीरियाई वायुसेना द्वारा किए गए रासायानिक हमले के प्रतिशोध स्वरूप किया गया.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement