तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान ने किया कश्मीर में संघर्ष का ऐलान

खास बातें

  • तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के एक शीर्ष नेता वली उर रहमान ने एक वीडियो में लड़ाकों को कश्मीर भेजने और भारत में शरीयत कानून लागू करने के लिए संषर्घ का आह्वान किया है।
वॉशिंगटन:

तहरीक-ए-तालिबान पाकिस्तान के एक शीर्ष नेता वली उर रहमान ने एक वीडियो में लड़ाकों को कश्मीर भेजने और भारत में शरीयत कानून लागू करने के लिए संषर्घ का आह्वान किया है।

वली उर रहमान पर दिसंबर 2009 में अफगानिस्तान में सीआईए के सात अधिकारियों की हत्या में संलिप्तता का आरोप है। उसके खिलाफ अमेरिका ने 50 लाख डॉलर का इनाम घोषित किया है।

समझा जाता है कि इस वीडियो में वली उर रहमान के साथ टीटीपी का प्रमुख हकीमुल्ला महसूद भी नजर आ रहा है और दोनों उग्रवादी नेताओं ने पहली बार अफगानिस्तान-पाकिस्तान की सीमा से आगे कश्मीर, भारत और अमेरिका तक अपनी पकड़ मजबूत करने की महत्वाकांक्षा जाहिर की है।

वॉशिंगटन के विचार समूह ‘मिडल ईस्ट मीडिया रिसर्च इन्स्टीट्यूट’ के ‘जिहाद एंड टेरॅरिजम थ्रेट मॉनिटर’ ने वीडियो का अनुवाद मुहैया कराया है। इस अनुवाद के मुताबिक, रहमान ने कहा ‘शरीयत व्यवस्था के लिए हम पाकिस्तान में जिस तरह का व्यावहारिक संघर्ष कर रहे हैं वैसा ही हम कश्मीर में करते रहेंगे और इसी तरह हम भारत में भी शरीयत व्यवस्था लागू करेंगे। लोगों की समस्याओं का यही एक समाधान है।’ करीब 45 मिनट 52 सेकंड का यह वीडियो पश्तू में है, उसके उप शीषर्क उर्दू में हैं और इसे टीटीपी की प्रसारण शाखा ‘उमर मीडिया’ ने तैयार किया है।

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com