Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

थाइलैंड में जीका वायरस के खिलाफ अलर्ट जारी, अब तक कुल 97 मामले सामने आए...

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
थाइलैंड में जीका वायरस के खिलाफ अलर्ट जारी, अब तक कुल 97 मामले सामने आए...

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर...

खास बातें

  1. थाइलैंड के स्वास्थ्य अधिकारियों ने जीका के फैलाव पर निगरानी बढ़ा दी है.
  2. एक जनवरी से अब तक जीका वायरस के 8 मामले सामने आए.
  3. जीका से पीड़ित महिला ने स्वस्थ बच्चे को जन्म दिया, जोकि निगरानी में है
बैंकॉक:

बैंकॉक में दो महिलाओं में जीका संक्रमण पाए जाने पर थाइलैंड के स्वास्थ्य अधिकारियों ने जीका के फैलाव पर निगरानी बढ़ा दी है. बैंकॉक मेट्रोपोलिटन एडमिनिस्ट्रेशन (बीएमए) ने कहा कि इस साल एक जनवरी से चार सितंबर तक राजधानी में जीका वायरस के आठ मामले सामने आए. इनमें दो मामले गर्भवती महिलाओं के थे.

इनमें से एक महिला स्वस्थ बच्चे को जन्म दे चुकी है. बच्चे में अब तक इस घातक वायरस का कोई लक्षण नहीं हैं. बहरहाल, अधिकारियों ने कहा कि वे बच्चे के स्वास्थ्य की लगातार निगरानी करते रहेंगे और नियमित रूप से रक्त और मूत्र परीक्षण करेंगे.

बीएमए के प्रवक्ता बेंजासाई कीयापत ने कहा कि एक अन्य संक्रमित महिला 18 सप्ताह की गर्भवती है और स्वास्थ्य अधिकारी उसकी स्थिति का करीबी निरीक्षण कर रहे हैं.

बीएमए के तत्काल कदम मच्छरों के स्रोतों का खात्मा करने पर केंद्रित हैं. यह वायरस मच्छरों से फैलता है. बीएमए ने निगरानी और रिपोर्टिंग का पूरा तंत्र स्थापित किया है.


बेंजासाई ने कहा कि चार माह में बैंकॉक में संक्रमित लोगों के दो समूह थे. पहले समूह में वे लोग थे, जो बैंकॉक में रहते थे, लेकिन हाल ही में जीका संक्रमण प्रभावित प्रांतों में होकर आए थे.

दैनिक 'द नेशन' ने कहा कि दूसरे समूह में संक्रमण के शिकार छह प्रांतों के निवासी थे, जो पहले कभी बैंकॉक आए थे और अब उनकी सेहत सामान्य हो चुकी है.  बेंजासाई ने कहा कि बीएमए ने सार्वजनिक सूचना अभियानों को बढ़ा दिया है ताकि बैंकॉक के निवासियों को वायरस और उसके खतरों के बारे में जागरूक किया जा सके.

टिप्पणियां

इस साल की शुरुआत से अब तक थाइलैंड में जीका के कुल 97 मामले सामने आए हैं. ये संक्रमित व्यक्ति कुल 16 प्रांतों में पाए गए.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... नीतीश कुमार ने NDTV से कहा- लोगों को बसों में भेजना एक गलत कदम, बीमारी फैलने से रोकना मुश्किल हो जाएगा

Advertisement