NDTV Khabar

बचपन में अवैध तरीके से अमेरिका लाए गए प्रवासी युवाओं के भाग्य का फैसला अगले सप्ताह

व्हाइट हाउस ने कहा- मंगलवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप करेंगे डीएसीए से जुड़ी घोषणा

6 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बचपन में अवैध तरीके से अमेरिका लाए गए प्रवासी युवाओं के भाग्य का फैसला अगले सप्ताह

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. करीब आठ लाख प्रवासी युवाओं को ट्रंप ने ‘सपने देखने वाले’ कहा
  2. ओबामा प्रशासन ने कुछ समय के लिए छूट और अस्थायी वर्क परमिट दिए थे
  3. रिपब्लिकन सांसदों ने मंगलवार तक की समय सीमा तय की
वाशिंगटन: व्हाइट हाउस ने कहा है कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मंगलवार को उन हजारों प्रवासी युवाओं के भाग्य पर फैसला सुनाएंगे, जिन्हें उनके बचपन में अवैध तरीके से अमेरिका लाया गया. राष्ट्रपति ने इन प्रवासियों को ‘अद्भुत’ बताया है और कहा है कि वह उनसे प्यार करते हैं.

ट्रंप ने ऐसे लगभग आठ लाख युवाओं के लिए ‘सपने देखने वाले’ शब्द का इस्तेमाल करते हुए शुक्रवार को संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम सपने देखने वालों से प्यार करते हैं, हम सभी से प्यार करते है.’’ ये वे लोग हैं, जिन्हें ओबामा प्रशासन ने डीएसीए (डेफर्ड एक्शन फॉर चाइल्डहुड अराइवल्स) के तहत निर्वासित किए जाने से कुछ समय तक के लिए छूट और अस्थायी वर्क परमिट दिए गए थे.

यह भी पढ़ें : 200 प्रवासी लोगों को मिलेगी अमेरिकी नागरिकता, लेंगे शपथ

जब उनसे पूछा गया कि वे इस कदम का इंतजार कर रहे युवा प्रवासियों से क्या कहेंगे तो ट्रंप ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि सपने देखने वाले लोग अद्भुत हैं.’’ डीएसीए को लेकर ट्रंप उलझन में हैं. रिपब्लिकन सांसदों ने मंगलवार तक की समय सीमा तय की है. वे चेतावनी दे रहे हैं कि यदि ट्रंप उस दिन तक इसे खत्म नहीं करते हैं तो वे इस कार्यक्रम को अदालत में चुनौती देंगे.

यह भी पढ़ें : प्रवासियों पर रोक लगाने से अमेरिका का अनूठा अनुभव खत्म हो जाएगा : बाइडेन

डीएसीए के कई पैरोकार उम्मीद कर रहे हैं कि राष्ट्रपति ट्रंप इस कार्यक्रम के तहत नए वर्क परमिट जारी करने पर रोक लगा देंगे और फिर इस कार्यक्रम को चरणबद्ध ढंग से हटा देंगे. रिपब्लिकन सीनेटर ओरिन हैच ने ट्रंप से अपील की है कि वह ‘‘अपने बचपन में अपनी गलती के बिना अवैध ढंग से हमारे देश में दाखिल होकर यहां अपना जीवन शुरू करने वाले लोगों’’ की सुरक्षा के पूर्व राष्ट्रपति ओबामा के प्रयासों को रद्द न करें.’’

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement