NDTV Khabar

नेपाल विमान हादसे में मृतकों की संख्या 51 पहुंची, जांच में बांग्लादेश के विशेषज्ञ भी हुए शामिल

दुर्घटना की जांच कर रही टीम को शुरुआती जांच में पता चला है कि यह हादसा रनवे को लेकर पैदा हुई भ्रम की स्थिति की वजह से हुई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नेपाल विमान हादसे में मृतकों की संख्या 51 पहुंची, जांच में बांग्लादेश के विशेषज्ञ भी हुए शामिल

नेपाल प्लेन हादसे की फाइल फोटो

नई दिल्ली:

नेपाल में हुए विमान हादसे में मृतकों की संख्या बढ़ कर 51 हो गई है. सोमवार को हुए इस विमान हादसे में कई यात्री गंभीर रूप से घायल भी हो गए थे, जिनका फिलहाल अस्पताल में इलाज चल रहा है. गौरतलब है कि घटना के समय इस विमान में 67 यात्रियों के अलावा चार क्रू मेंबर भी मौजूद थे. दुर्घटना की जांच कर रही टीम को शुरुआती जांच में पता चला है कि यह हादसा रनवे को लेकर पैदा हुई भ्रम की स्थिति की वजह से हुई. मंगलवार को बांगलादेश की एक विशेष टीम भी जांच में शामिल हुए है. गौरतलब है कि जांच टीम को विमान का ब्लैक बॉक्स मिल गया है. जिसके आधार पर जांच आगे बढ़ रही है. 

यह भी पढ़ें: भारत में हुए ये 5 बड़े विमान हादसे, जिनमें गईं 230 जिंदगियां

नेपाल की जांच टीम के साथ शामिल हुए बांगलादेश के प्रतिनिधिमंडल में नागरिक विमानन एवं परिवहन मंत्री एकेएम शाहजहां कमाल, विदेश मंत्री अबुल हसन महमूद अली और विमानन के वरिष्ठ अधिकारी शामिल हैं. अधिकारियों ने कहा कि दुर्घटना से ठीक पहले के वायु यातायात नियंत्रकों और पायलटों के बीच बातचीत से यह संकेत मिलता है कि यह घटना रनवे को लेकर भ्रम की वजह से हुई होगी.


यह भी पढ़ें: नेपाल विमान हादसा: रनवे को लेकर भ्रम की वजह से हुई दुर्घटना

वहीं एक नेपाली समाचार पत्र की खबर के अनुसार पायलट और एयर ट्रैफिक कंट्रोलर के बीच हुई अंतिम चार मिनट की बातचीत से पता चलता है कि  पायलट के मन में रनवे 02 और रनवे 20 को लेकर भ्रम था.

टिप्पणियां

VIDEO: नेपाल में प्लेस क्रैश में 15 लोगों की मौत.

ध्यान हो कि सोमवार को ढाका से काठमांडू आ रहा यूएस- बांग्ला एयरलाइंस का एक विमान त्रिभुवन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा की हवाईपट्टी से आगे जाते हुए एक फुटबॉल मैदान में क्रैश हो गया था. 
 



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement