यह ख़बर 14 दिसंबर, 2012 को प्रकाशित हुई थी

अमेरिकी सदन में सिखों पर हमलों के खिलाफ निन्दा प्रस्ताव पारित

अमेरिकी सदन में सिखों पर हमलों के खिलाफ निन्दा प्रस्ताव पारित

खास बातें

  • सिखों पर हमलों के खिलाफ एक निन्दा प्रस्ताव अमेरिका के इलिनोइस सदन में पारित कर दिया गया। यह प्रस्ताव मुख्यत: गत अगस्त में विस्कोंसिन गुरुद्वारे में हुई गोलीबारी की घटना से संबंधित था।
वाशिंगटन:

सिखों पर हमलों के खिलाफ एक निन्दा प्रस्ताव अमेरिका के इलिनोइस सदन में पारित कर दिया गया। यह प्रस्ताव मुख्यत: गत अगस्त में विस्कोंसिन गुरुद्वारे में हुई गोलीबारी की घटना से संबंधित था। इस घटना में छह सिख श्रद्धालु मारे गए थे।

अमेरिका के प्रति अमेरिकी सिख समुदाय की व्यापक प्रतिबद्धता को मान्यता देते हुए इस प्रस्ताव में कहा गया है कि विस्कोंसिन नरसंहार और नस्ली भावना से प्रेरित अन्य हमलों ने सिखों और अन्य समुदायों को चिंतित कर दिया है।

Newsbeep

इस प्रस्ताव में घृणा से भरी हिंसा की निन्दा करते हुए प्रवासी एवं अल्पसंख्यक समुदायों की भागीदारी और नागरिकों के बीच मेलजोल को प्रोत्साहन दिया गया है। साथ ही इसमें आम जनता के बीच सिखों और अन्य अल्पसंख्यक समुदायों के बारे में ज्यादा जागरूकता लाने पर जोर दिया गया है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


यूनाइटेड सिख्स की मध्य पश्चिम क्षेत्र की संयोजक एकता अर्नेजा ने कहा, यह प्रस्ताव नस्ली भावनाओं से प्रेरित अत्याचारों से जुड़ा है । यह इलिनोइस राज्य की ओर से इलिनोइस के लोगों को अमेरिकी सिखों और दक्षिण एशियाई मूल के अमेरिकियों के बारे में ज्यादा शिक्षित करने की प्रतिबद्धता व्यक्त करता है।