पाकिस्तान के खिलाफ ट्रंप प्रशासन का रुख हुआ और कड़ा, उठाया यह कदम

ट्रंप का ताजा रुख पाकिस्तान को कड़ा संदेश है कि उसे जिहादी समूहों को अपना समर्थन बंद करना होगा.

पाकिस्तान के खिलाफ ट्रंप प्रशासन का रुख हुआ और कड़ा, उठाया यह कदम

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

खास बातें

  • 'पाकिस्तान को जिहादी समूहों को अपना समर्थन बंद करना होगा'
  • पाकिस्तान को कड़ा संदेश देने के लिए ट्रंप अपने शीर्ष सलाहकारों को भेजेंगे
  • अमेरिकी विदेश मंत्री टिलरसन, रक्षा मंत्री जिम मैटिस जाएंगे पाकिस्तान
वाशिंगटन:

आतंकियों को पनाह देने को लेकर पाकिस्तान के खिलाफ अमेरिका ने अपना रुख और कड़ा कर लिया है. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपने शीर्ष राजनयिक तथा सैन्य सलाहकारों को इस माह के आखिर में पाकिस्तान भेजेंगे, ताकि उसे आतंकवाद को पनाह देने को लेकर कड़ा संदेश दिया जा सके. ट्रंप के इस्लामाबाद पर 'अराजक तत्वों' को सुरक्षित पनाह देने का आरोप लगाने के कुछ हफ्ते बाद अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन की इस माह के अंत में पाकिस्तान के दौरे पर जाने की योजना है. अमेरिकी और पाकिस्तानी सूत्रों के अनुसार टिलरसन के अलावा रक्षा मंत्री जिम मैटिस भी पाकिस्तान के दौरे पर जाएंगे.

यह भी पढ़ें : पाकिस्तान अपने तरीके नहीं बदलता है तो ट्रंप कोई भी कदम उठाने को तैयार : अमेरिकी रक्षा मंत्री

अधिकारियों द्वारा उनके दौरे के बारे में दी गई जानकारी के अनुसार ट्रंप का यह रुख पाकिस्तान को कड़ा संदेश है कि उसे जिहादी समूहों को अपना समर्थन बंद करना होगा. ट्रंप ने अगस्त में अपने संदेश में कहा था, 'हम पाकिस्तान को जहां अरबों डॉलर दे रहे हैं, वहीं वह उन आतंकवादियों को पनाह दे रहा है जिनसे हम लड़ रहे हैं.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


VIDEO : आतकंवाद के खिलाफ अमेरिकी रक्षामंत्री का कड़ा बयान
ट्रंप के सख्त तेवर अपनाने का संकेत देने के छह हफ्ते बाद अब यह संदेश मिल रहा है कि दक्षिण एशिया में परिदृश्य बदल गया है. (इनपुट भाषा से)