NDTV Khabar

अमेरिका में दो भारतीयों ने 7000 से अधिक फर्जी पहचान पत्र बनाए, की धोखाधड़ी, मिली सजा

3 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिका में दो भारतीयों ने 7000 से अधिक फर्जी पहचान पत्र बनाए, की धोखाधड़ी, मिली सजा

क्रेडिट कार्ड के जरिए धोखाधड़ी

खास बातें

  1. दो भारतीय अमेरिकियों को 20 करोड़ डॉलर से अधिक धोखाधड़ी की.
  2. फर्जीवाड़े में एक साल से अधिक कारावास की सजा सुनाई गई है
  3. दोनों 7000 से अधिक फर्जी पहचान पत्र बनाने के षडयंत्र में शामिल
वाशिंगटन: अमेरिका में दो भारतीय अमेरिकियों को 20 करोड़ डॉलर से अधिक के एक बड़े अंतरराष्ट्रीय क्रेडिट कार्ड फर्जीवाड़े में एक साल से अधिक कारावास की सजा सुनाई गई है. कार्यवाहक अमेरिकी अटॉर्नी विलियम ई फित्जपैट्रिक ने बताया कि न्यूयॉर्क में गहनों की एक दुकान के मालिक विजय वर्मा (49) और तरसेम लाल (78) को क्रमश: 14 महीने कारावास और 12 महीने नजरबंद रखने की सजा सुनाई गई है.

दोनों ने अपने आरोप स्वीकार किए हैं.

वर्मा और लाल पर लाखों क्रेडिट कार्ड हासिल करने के लिए 7000 से अधिक फर्जी पहचान पत्र बनाने के षडयंत्र में शामिल होने के संबंध में अक्तूबर 2013 में अभियोग लगाया गया था.

अदालत के दस्तावेजों के अनुसार इस साजिश में शामिल लोगों ने ऋण रिपोर्टों के साथ छेड़छाड़ की ताकि कार्डों से जुड़ी खर्च एवं ऋण क्षमता को बढ़ाया जा सके. इसके बाद उन्होंने काफी धन उधार लिया या खर्च किया लेकिन ऋणों का भुगतान नहीं किया जिससे कारोबारों एवं वित्तीय संस्थानों को 20 करोड़ डॉलर का पुष्ट नुकसान हुआ.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement