NDTV Khabar

काबुल आंतकी हमला: हेलिकॉप्टर से उतरकर इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में घुसे सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को किया ढेर, पांच लोगों की मौत

जब यह हमला हुआ तो होटल में देश भर से आई आए आईटी अधिकारी मौजूद थे आतंकियों ने इस हमले में वहां मौजूद मेहमानों और स्टाफ को निशाना बनाया और आग लगा दी है जिसमें कई लोगों के मारे जाने की खबर है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
काबुल आंतकी हमला: हेलिकॉप्टर से उतरकर इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में घुसे सुरक्षाबलों ने दो आतंकियों को किया ढेर, पांच लोगों की मौत

आतंकियों ने इंटरकॉन्टिनेंटल होटल में सुरक्षा में ढील का फायदा उठाया है

खास बातें

  1. मुंबई की तरह हुआ हमला
  2. कई लोगों के मारे जाने की आशंका
  3. आज होना था आईटी पर सम्मेलन
सूचना और प्रसारण पर होने जा रहे सम्मेलन से पहले काबुल के मशहूर इंटरकॉन्टिनेंटल होटल  पर मुंबई हमले की तरह ही आतंकियों ने घुसकर फायरिंग की है. सुरक्षाबलों हेलीकॉप्टर से उतरकर होटल की छत से अंदर घुसे और दो आतंकियों को मार गिराया है. अफगानिस्तान सरकार के एक प्रवक्ता ने यह जानकारी दी है. जब यह हमला हुआ तो होटल में देश भर से आई आए आईटी अधिकारी मौजूद थे आतंकियों ने इस हमले में वहां मौजूद मेहमानों और स्टाफ को निशाना बनाया और आग लगा दी है. 

अफगानिस्तान की खुफिया एजेंसी के एक अधिकारी ने बताया कि इस हमले में पांच लोग मारे गए हैं वहीं 100 बंधकों को रिहा करा लिया गया है. अफगानिस्तान के तोलो न्यूज में दिखाई गई तस्वीरों में होटल की ऊपरी मंजिल से घना काला धुआं और आग की लपटें निकलती दिखाई दे रही थी. अंदर से अभी तक गोलियों की आवाजें आ रही हैं इससे अंदाजा लगाया जा रहा है कि मुठभेड़ जारी है. आतंकियों की संख्या चार या इससे ज्यादा हो सकती है.

काबुल में भारतीय दूतावास परिसर में गिरा रॉकेट, कोई हताहत नहीं

सूत्रों ने बताया कि शनिवार रात चार बंदूकधारी होटल में घुस गए. उन्होंने मेहमानों तथा कर्मचारियों पर गोलियां चलाईं और अनेक लोगों को बंधक बना लिया जिनमें विदेशी नागरिक भी शामिल हैं. एक अन्य अधिकारी ने बताया कि होटल में प्रवेश करते वक्त हमलावरों के पास छोटे हथियार और रॉकेट से दागे जाने वाले ग्रेनेड थे. इस होटल में अक्सर शादी, सम्मेलन और राजनीतिक बैठकें होती हैं. सूचना प्रसारण मंत्रालय के अधिकारी अब्दुल्ला साबेत ने बताया कि यहां एक कॉन्फ्रेंस होनी थी इसलिए बड़ी संख्या में आईटी अधिकारी यहां ठहरे हुए थे.

अफगानिस्तान की राजधानी में रह रहे विदेशियों को हाल ही में चेतावनी जारी की गई थी जिसमें कहा गया था कि कट्टरपंथी संगठन काबुल के होटलों में , जन सभाओं तथा उन स्थानों पर हमले की योजना बना सकते हैं, जहां विदेशी नागरिक आते हैं. अमेरिकी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट ने कहा कि अभी यह स्पष्ट नहीं है कि कोई अमेरिकी नागरिक भी इस हमले की चपेट में आया अथवा नहीं.

टिप्पणियां
अभी तक इस बात की पुष्टि नहीं हो पाई है कि कितने लोग होटल के अंदर फंसे हुए हैं. इसके पहले इस होटल में 2011 में भी आतंकी हमला हो चुका है.  हालांकि अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है. गौरतलब है काफी दिनों से काबुल में आतंकी हमले की आशंका जताई जा रही थी. 

वीडियो : काबुल में भारतीय दूतावास पर हो चुका है आतंकी हमला, हुई थी 50 की मौत

इससे पहले होटल में ही मौजूद एक शख्स ने मोबाइल पर बताया कि वह होटल के कमरे में छिपा हुआ है और उसे गोलियां चलने की आवाज सुनाई दे रही है. 
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement