NDTV Khabar

दो रूसी लड़ाकू विमान जापान सागर के ऊपर आपस में टकराए

विमानों ने बिना गोला-बारूद के उड़ानें भरी थी, चालक दल के सदस्य सुरक्षित रूप से बाहर निकलने में कामयाब रहे

180 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
दो रूसी लड़ाकू विमान जापान सागर के ऊपर आपस में टकराए

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. युद्धाभ्यास करते हुए आसमान में एक-दूसरे से टकरा गए
  2. जापान सागर के ऊपर एक नियोजित प्रशिक्षण उड़ान के दौरान हादसा
  3. एसयू-34 रूस का हर मौसम में संचालित हो सकने वाला बमवर्षक
मॉस्को:

जापान सागर के ऊपर शुक्रवार को रूस के दो सुखोई एसयू-34 बमवर्षक युद्धाभ्यास करते समय गलती से आपस में टकरा गए. देश के रक्षा मंत्रालय ने यह जानकारी दी है.

रूसी मंत्रालय के बयान के मुताबिक, विमानों ने बिना गोला-बारूद के उड़ानें भरी थी. चालक दल के सदस्य सुरक्षित रूप से बाहर निकलने में कामयाब रहे.

समाचार एजेंसी तास ने बयान के हवाले से कहा है, "18 जनवरी को सुबह 8.07 बजे (मॉस्को समयानुसार), जापान सागर के ऊपर एक नियोजित प्रशिक्षण उड़ान का प्रदर्शन करते हुए, तट से 35 किलोमीटर दूर, सुदूर पूर्वी वायु रक्षा बलों के दो एसयू-34 विमान युद्धाभ्यास करते हुए आसमान में एक-दूसरे से टकरा गए."

टिप्पणियां

बयान में कहा गया है कि खोज और बचाव बलों के एक एएन-12 और दो एमआई-8 हेलीकॉप्टर उस क्षेत्र के पायलटों की तलाश कर रहे थे, जहां से वे निकले थे.


एसयू-34 रूस का हर मौसम में संचालित हो सकने वाला सुपरसोनिक मीडियम रेंज लड़ाकू बमवर्षक विमान है. इसने पहली बार 1990 में उड़ान भरी थी और 2014 से रूसी वायुसेना का हिस्सा है.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement