UAE राजदूत बोले- भारतीय संस्कृति में है बहुत अधिक सहिष्णुता और स्वीकार्यता

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जनवरी में 2019 को ‘सहिष्णुता वर्ष’ घोषित करने के लिए यूएई की तारीफ की थी और उन्होंने कहा था कि दूसरी तरफ भारत साढ़े चार साल से ‘असहिष्णुता’ का गवाह है.

UAE राजदूत बोले- भारतीय संस्कृति में है बहुत अधिक सहिष्णुता और स्वीकार्यता

अमेरिका तथा चीन के बाद यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा कारोबारी साझेदार है.

दुबई:

संयुक्त अरब अमीरात (UAE) के भारत में राजदूत अहमद अलबन्ना ने सोमवार को कहा कि भारतीय संस्कृति में काफी सहिष्णुता और स्वीकार्यता व्याप्त है और साथ ही कहा कि ये दोनों देशों की साझा विशेषता है. यूएई वर्ष 2019 को ‘सहिष्णुता वर्ष' के रूप में मना रहा है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जनवरी में 2019 को ‘सहिष्णुता वर्ष' घोषित करने के लिए यूएई की तारीफ की थी और उन्होंने कहा था कि दूसरी तरफ भारत साढ़े चार साल से ‘असहिष्णुता' का गवाह है. अलबन्ना ने यह बात दुबई एक्सपो 2020 की शुरुआत से पहले एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करने के दौरान कही.

PM को लिखे 'पत्र' के लिए देशद्रोह का मुकदमा खत्म करे अदालत: कमल हासन

यह पूछने पर कि भारत में सहिष्णुता को वह कैसे देखते हैं, अलबन्ना ने कहा, ‘‘सहिष्णुता और स्वीकार्यता के संदर्भ में, मैं यूएई और भारत की संस्कृति में कई समानताएं और कई विशेषताएं देखता हूं, जो हमारी संस्कृतियों में एक जैसी हैं.'' राजदूत ने आगे कहा कि यूएई और भारत के बीच द्विपक्षीय व्यापार करीब 60 अरब डॉलर हो गया है और अमेरिका तथा चीन के बाद यूएई भारत का तीसरा सबसे बड़ा कारोबारी साझेदार है. उन्होंने कहा, ‘‘यूएई के लिए भारत सबसे अग्रणी साझेदार है. यूएई में 30 लाख से अधिक भारतीय रह रहे हैं.''

Congress नेता शशि थरूर ने कहा, भारत में अब सहिष्णुता के लिये कोई जगह नहीं, सिर्फ ‘स्पष्ट विभेद' है

अलबन्ना ने इस मौके पर कहा कि एक्सपो 2020 अब से एक साल बाद दुबई में शुरू होगा और यह मध्य पूर्व, उत्तरी अफ्रीका और दक्षिण एशिया में आयोजित होने वाला अपनी तरह का विशिष्ट एक्सपो होगा.  उन्होंने कहा, ‘‘हम उम्मीद कर रहे हैं कि एक्सपो 2020 के छह महीनों के दौरान लगभग 2.5 करोड़ लोग इसमें भाग लेंगे.'' उन्होंने कहा कि एक्सपो 2020 में भारतीय दीर्घा की व्यवस्था भारत सरकार देखेगी और यह यूएई में भारत के लिए एक स्थाई दीर्घा होगी.  इस कार्यक्रम में भूटानी दूतावास नई दिल्ली की डिप्टी प्रमुख के अलावा फिक्की के महासचिव दिलीप च्चिनॉय भी शामिल हुए. 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com