ब्रिटेन में कल से इंसानों पर शुरू होगा कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, सरकार प्रोजेक्ट पर झोंक रही करोड़ों रुपये

हैनकॉक ने कहा कि इसके अलावा, लंदन के इंपीरियल कॉलेज को कोरोना वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल के लिए 2.25 करोड़ पाउंड की राशि उपलब्ध कराई जा रही है.

ब्रिटेन में कल से इंसानों पर शुरू होगा कोरोना वैक्सीन का ट्रायल, सरकार प्रोजेक्ट पर झोंक रही करोड़ों रुपये

प्रतीकात्मक तस्वीर

लंदन:

ब्रिटेन सरकार ने कोरोनावायरस (Coronavirus) के इलाज के लिए बनाई जा रही दवा (vaccine) के लिए 2 करोड़ पाउंड की राशि देने की मंगलवार को घोषणा की. ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी कोरोना की वैक्सीन विकसित करने की परियोजना पर काम कर रही है. बृहस्पतिवार से इस टीके का परीक्षण मनुष्यों का किया जाएगा.  ब्रिटेन के स्वास्थ्य मंत्री मैट हैनकॉक ने यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग दवा खोजने की कोशिश में हर संभव प्रयास कर रहा है क्योंकि कोरोनावायरस से लड़ने के लिए यह एक कारगर तरीका है. 

हैनकॉक ने कहा कि इसके अलावा, लंदन के इंपीरियल कॉलेज को कोरोना वैक्सीन के क्लिनिकल ट्रायल के लिए 2.25 करोड़ पाउंड की राशि उपलब्ध कराई जा रही है.  कोरोनावायरस का टीक खोजने के वैश्विक प्रयासों में ब्रिटेन अगुवा है. वह किसी अन्य देश की तुलना में वैक्सीन की खोज में ज्यादा पैसे डाल रहे हैं. दवा तैयार करना सिर्फ परीक्षण और टेस्ट फेल होने का विषय है, लेकिन ब्रिटेन सही वैक्सीन की तलाश की कोशिश में हर चीज झोंकने या कुर्बान करने के लिए तैयार है. 

ब्रिटेन की ओर से यह घोषणा ऐसे समय की गई है कि जब वहां कोरोनावायरस से मौतों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. मंगलवार को ब्रिटेन के अस्पतालों में कोरोना से 823 लोगों की मौत होने की सूचना है. इसी के साथ अब तक मृतकों की संख्या 17,337 पर पहुंच गई है. 

कोरोना से दुनियाभर में 1.7 लाख से अधिक की मौतें
कोरोनावायरस के संक्रमण में दुनियाभर में 25 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं. जिनमें 80 प्रतिशत मामले यूरोप और अमेरिका में पाए गए हैं. एएफपी के अनुसार, दुनिया भर में कोरोना के 2,503,429 मामले अब तक पाए गए हैं. जिनमें 172,551 लोगों की मौत हो चुकी है. सबसे अधिक यूरोप महाद्वीप में संक्रमण हुई है अब तक 1,230,522 लोग संक्रमित हुए हैं जबकि 108,797 लोगों की मौत हो चुकी है. साथ ही अमेरिका में कोरोना का कहर जारी है अब तक अमेरिका में  788,920 मामले सामने आ चुके हैं जबकि 42,458 लोगों की मौत हो चुकी है.    

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com