United Kingdom General elections 2019 : बोरिस जॉनसन को मिलती दिख रही बढ़त लेकिन त्रिशंकु संसद की भी संभावना

United Kingdom General elections में Conservative Party को स्पष्ट बहुमत मिलने की बात बहुत दावे से नहीं की जा सकती है.

United Kingdom General elections 2019 : बोरिस जॉनसन को मिलती दिख रही बढ़त लेकिन त्रिशंकु संसद की भी संभावना

युनाइटेड किंग्डम में आम चुनाव के लिए बृहस्पतिवार को मतदान के दिन अंतिम वोट पड़ने हैं.

खास बातें

  • त्रिशंकु संसद की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता
  • 650 सदस्यीय हॉउस ऑफ कॉमन्स में बहुमत का जादुई आंकड़ा 326 है
  • बोरिस जॉनसन को बढ़त मिल सकती है
नई दिल्ली:

युनाइटेड किंग्डम (United Kingdom) में आम चुनाव (General Elections 2019) प्रचार  के अंतिम दिन बुधवार को पार्टी नेताओं ने अपने पक्ष में वोट जुटाने के लिए देश भर में पूरे दम-खम से अंतिम प्रयास किए. वहीं चुनाव से पहले किया गया एक निर्णायक सर्वेक्षण प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन (PM Boris Johnson) को बढ़त मिलते दिखा रहा है लेकिन साथ ही खंडित जनादेश की संभावना से भी इनकार नहीं कर रहा है.इन चुनावों में मुकाबला कांटे का माना जा रहा है और बृहस्पतिवार को मतदान के दिन अंतिम वोट पड़ने हैं.

यह भी पढ़ें-अमेरिकी सांसद का मोदी सरकार पर हमला, कहा- नागरिकता संशोधन बिल मुसलमानों को...

पिछली बार 2017 में हुए चुनाव परिणामों का सटीक अनुमान लगाने वाले मॉडल के अनुसार पूर्व के कुछ सर्वेक्षणों के उलट, इस सर्वेक्षण में कंजर्वेटिव पार्टी (Conservative Party) को स्पष्ट बहुमत मिलने की बात बहुत दावे से नहीं की जा सकती है.मतदान की पूर्व संध्या पर जारी ‘यूगव' पोल में दर्शाया गया है कि कंजर्वेटिव पार्टी 339 सीटों पर, लेबर पार्टी (Labour Party) 231, लिबरल डेमोक्रेट्स (Liberal Democrats) 15 और स्कॉटिश नेशनल पार्टी (एसएनपी)  21 सीटों पर जीत हासिल कर सकती है.  

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

यह भी पढ़ें- पाकिस्तान: शहबाज शरीफ और उनके परिवार की अचल संपत्तियां जब्त करने का आदेश

650 सदस्यीय हॉउस ऑफ कॉमन्स (House Of Commons) में बहुमत के जादुई आंकड़े यानि 326 सीट जीतने के लक्ष्य को कंजर्वेटिव्स आसानी से हासिल करते दिख रहे हैं लेकिन इन आंकड़ों में मामूली फेरबदल से त्रिशंकु संसद बनने की स्थिति पैदा हो सकती है. यूगव के राजनीतिक शोध के निदेशक एंथनी वेल्स ने कहा, “मॉडल की मानें तो त्रिशंकु संसद की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता.”



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)