NDTV Khabar

संयुक्त राष्ट्र ने गांधी जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाया

संयुक्त राष्ट्र ने आज महात्मा गांधी की 148वीं जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाया. इस मौके पर भारतीय-अमेरिकियों ने पूरे अमेरिका में शांतिदूत महात्मा गांधी को याद किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
संयुक्त राष्ट्र ने गांधी जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाया

यूएन ने गांधी जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाया

खास बातें

  1. संयुक्त राष्ट्र में भी मनाया गई गांधी जयंती
  2. अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस को तौर पर मनाई गई गांधी जयंती
  3. यह महात्मा गांधी की 148वीं जयंती थी
न्यूयॉर्क:

संयुक्त राष्ट्र ने आज महात्मा गांधी की 148वीं जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाया. इस मौके पर भारतीय-अमेरिकियों ने पूरे अमेरिका में शांतिदूत महात्मा गांधी को याद किया. संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष मीरोस्लाव लेजकक ने न्यूयॉर्क में संयुक्त राष्ट्र मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में कहा कि लोग अब भी उस दुनिया में नहीं रह रहे, जिसका सपना महात्मा गांधी ने देखा था. संयुक्त राष्ट्र महात्मा गांधी की जयंती को अंतरराष्ट्रीय अहिंसा दिवस के तौर पर मनाता है.

यह भी पढ़ें: गांधी जयंती पर छलका पीएम नरेंद्र मोदी का दर्द, बोले- झेलने की कैपेसिटी बढ़ा रहा हूं

टिप्पणियां

लेजकक ने कहा, ‘‘दुर्भाग्यवश, हम अब भी ऐसी दुनिया में नहीं रहते जिसका सपना महात्मा गांधी ने देखा था. कई लोग अब भी हिंसा पसंद करते हैं. हर रोज बर्बादी और इंसानों के जूझने के नए-नए साक्ष्य मिलते हैं, जो इस पसंद से सामने आते हैं.’’ उन्होंने कहा कि असहनशीलता और नफरत भरे बोल दुनिया की ‘विशेषता’ बन चुके हैं और अंतरराष्ट्रीय मानवाधिकारों एवं मानवीय कानूनों का लगातार उल्लंघन हो रहा है.


VIDEO: क्या अहिंसा जैसे शब्द पराए हो गए हैं?
उन्होंने कहा कि हिंसक चरमपंथ और आतंकवाद कम होने का नाम ही नहीं ले रहे. संयुक्त राष्ट्र महासभा के प्रमुख ने कहा कि अहिंसा के मामले में वैश्विक नेता होने के नाते इस विश्व संस्था को इस सिद्धांत को बढ़ावा देने के लिए काफी कुछ करने और दूसरों को इस बारे में प्रेरित करने की जरूरत है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement