'लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा हो', UN प्रमुख ने वाशिंगटन में हिंसा पर जताई चिंता

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुतेरस ने कहा, "ऐसी परिस्थितियों में, यह महत्वपूर्ण है कि राजनीतिक नेता अपने अनुयायियों को हिंसा करने से रोकें, साथ ही साथ लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करें एवं संवैधानिक प्रक्रियाओं और कानून के शासन का सम्मान करें."

'लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा हो', UN प्रमुख ने वाशिंगटन में हिंसा पर जताई चिंता

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुतेरस ने अमेरिकी संसद परिसर में हुए हंगामा और हिंसा पर चिंता जताई है.

खास बातें

  • वाशिंगटन डीसी की घटना पर यूएम प्रमुख ने जताई चिंता
  • कहा- नेताओं को अपने समर्थकों को हिंसा करने से रोकना चाहिए
  • 'हर हाल में हो लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा और संवैधानिक नियमों का पालन'

संयुक्त राष्ट्र (United Nations) प्रमुख ने वाशिंगटन डीसी में अमेरिकी संसद (US Parliament) परिसर में ट्रम्प समर्थक प्रदर्शनकारियों द्वारा की गई हिंसा पर दुख और चिंता व्यक्त की है, जिन्होंने राष्ट्रपति चुनाव परिणामों को प्रमाणित करने के लिए अमेरिकी संसद की प्रक्रिया को बाधा पहुंचाई है और वहां अराजकता का माहौल पैदा किया है.

यूएन महासचिव के प्रवक्ता स्टीफन दुजारिक ने बुधवार को संवाददाताओं को एक नोट में कहा, "वाशिंगटन, डीसी के यूएस कैपिटल में हुई घटनाओं से यूएन महासचिव दुखी हैं."

संयुक्त राष्ट्र प्रमुख एंटोनियो गुतेरस ने कहा, "ऐसी परिस्थितियों में, यह महत्वपूर्ण है कि राजनीतिक नेता अपने अनुयायियों को हिंसा करने से रोकें, साथ ही साथ लोकतांत्रिक मूल्यों की रक्षा करें एवं संवैधानिक प्रक्रियाओं और कानून के शासन का सम्मान करें."

गोलियां चलाईं, शीशे तोड़े : ट्रम्प समर्थकों ने ऐसे अमेरिकी संसद परिसर को रणक्षेत्र में बदल दिया

193 सदस्य देशों वाले संयुक्त राष्ट्र महासभा के 75 वें सत्र के अध्यक्ष वोलकान बोज़किर ने ट्वीट किया, "मैं #WashingtonDC में कैपिटल में आज के घटनाक्रम से दुखी और चिंतित हूं. अमेरिका दुनिया के प्रमुख लोकतंत्रों में से एक है. मेरा मानना ​​है कि इस महत्वपूर्ण समय में हमारे मेजबान देश में लोकतांत्रिक प्रक्रियाओं के लिए शांति और सम्मान कायम होगा."

'सत्ता का शांतिपूर्ण हस्तांतरण हो', अमेरिकी संसद परिसर में हिंसा पर पीएम मोदी ने जताई चिंता


बता दें कि हालिया अमेरिकी राष्ट्रपति चुनावों में जीते रिपब्लिकन जो बाइडेन की जीत पर मुहर लगाने के लिए बुधवार को अमेरिकी संसद के दोनों सदनों के सदस्य जुटे थे. इसी दौरान निवर्तमान राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के सैकड़ों समर्थक संसद परिसर में घुस गए. इस दौरान गोली भी चली, जिसमें एक महिला की मौत हो गई. संसद भवन के बाहर ट्रंप समर्थकों और पुलिस के बीच हिंसक झड़प हुई, जिसके बाद परिसर को ‘‘लॉक्ड डाउन'' (प्रवेश एवं निकास बंद) कर दिया गया. प्रदर्शनकारी कैपिटल बिल्डिंग के भीतर घुस गए और स्पीकर के चैंबर में जा बैठे. इससे संसद का कार्यवाही बाधित हुई.

वीडियो- अमेरिका में सियासी घमासान, कैपिटल बिल्डिंग में घुसे ट्रंप समर्थक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com