NDTV Khabar

जब तक बशर अल-असद सत्ता में है, सीरिया में कभी भी स्थिरता नहीं आएगी : अमेरिका

उन्होंने कहा, ‘जब तक असद सत्ता में है, सीरिया कभी सुरक्षित और स्थिर नहीं होगा. असद शासन दुष्टता के एक नए स्तर तक गिर गया है और उसने रूस और ईरान के बिना शर्त समर्थन के साथ ऐसा किया है.’ उन्होंने कहा कि इन वजहों के चलते अमेरिका संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा प्रस्ताव 2254 में वर्णित राजनीतिक सत्तांतरण प्रक्रिया का लगातार समर्थन कर रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जब तक बशर अल-असद सत्ता में है, सीरिया में कभी भी स्थिरता नहीं आएगी : अमेरिका

बशर अल असद

खास बातें

  1. असद शासन दुष्टता के एक नए स्तर तक गिर गया है
  2. अमेरिका रूस और ईरान के साथ मिलकर काम करने के लिए तैयार है
  3. स्थिर एवं एकजुट सीरिया के लिए हल निकाला जा सके
वाशिंगटन: अमेरिका ने सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद के शासन के ‘दुष्टता के एक नए स्तर’ तक गिर जाने का आरोप लगाते हुए कहा कि जब तक बशर अल-असद सत्ता में हैं, तब तक सीरिया में स्थिरता नहीं आ सकती. व्हाइट हाउस के प्रेस सचिव सीन स्पाइसर ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘ट्रंप प्रशासन का मानना है कि सीरिया के राष्ट्रीय भविष्य का फैसला सीरिया की जनता द्वारा एक स्वतंत्र, विश्वसनीय और पारदर्शी तरीके से किया जाना चाहिए. हालांकि हमारा यह भी मानना है कि एक स्वतंत्र प्रक्रिया में सीरियाई लोगों द्वारा असद के नेतृत्व में रहने का विकल्प चुना जाना अकाल्पनिक है.’ 

उन्होंने कहा, ‘जब तक असद सत्ता में है, सीरिया कभी सुरक्षित और स्थिर नहीं होगा. असद शासन दुष्टता के एक नए स्तर तक गिर गया है और उसने रूस और ईरान के बिना शर्त समर्थन के साथ ऐसा किया है.’ उन्होंने कहा कि इन वजहों के चलते अमेरिका संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा प्रस्ताव 2254 में वर्णित राजनीतिक सत्तांतरण प्रक्रिया का लगातार समर्थन कर रहा है. इसके साथ ही वह जिनेवा में संयुक्त राष्ट्र की देखरेख में चल रही राजनीतिक प्रक्रिया का समर्थन करता है.उन्होंने कहा कि अमेरिका रूस और ईरान के साथ मिलकर काम करने के लिए तैयार है, ताकि स्थिर एवं एकजुट सीरिया के लिए हल निकाला जा सके.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement