NDTV Khabar

मेक्सिको की सीमा पार कर रहे शरणार्थियों पर अमेरिका ने छोड़े आंसू गैस के गोले

अमेरिका ने मेक्सिको की सीमा पार कर रहे शरणार्थियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े हैं. बताया जा रहा है कि सैकड़ों शरणार्थी मेक्सिको के तिजुआना में सीमा पर लगी बाड़ को फांदने की कोशिश कर रहे थे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मेक्सिको की सीमा पार कर रहे शरणार्थियों पर अमेरिका ने छोड़े आंसू गैस के गोले

अमेरिकी एजेंटो ने सीमा पार कर रहे शरणार्थियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े.

खास बातें

  1. तिजुआना में बाड़ को पार करने की कोशिश कर रहे थे शरणार्थी
  2. इसके बाद अमेरिकी एजेंटों ने आंसू गैस के गोले छोड़े
  3. सैन सिदरो सीमा चौकी पर वाहनों की आवाजाही भी रोकी गई
मेक्सिको:


अमेरिका ने मेक्सिको की सीमा पार कर रहे शरणार्थियों पर आंसू गैस के गोले छोड़े हैं. बताया जा रहा है कि सैकड़ों शरणार्थी मेक्सिको के तिजुआना में सीमा पर लगी बाड़ को फांदने की कोशिश कर रहे थे. इसी दौरान अमेरिकी एजेंटों ने उन पर गोले छोड़े. कैलिफोर्निया के सैन डिएगो में ‘अमेरिकी सीमा शुल्क एवं सीमा सुरक्षा (सीबीपी) कार्यालय' ने बताया कि घटना के बाद सैन सिदरो सीमा चौकी को उत्तर और दक्षिण दोनों ओर से वाहनों की आवाजाही के लिए बंद कर दिया गया है. इसके अलावा पैदल यात्रियों के लिए भी मार्ग कई घंटो तक बंद रहा. ‘सैन सिदरो सीमा चौकी' अमेरिका और मेक्सिको सीमा पर स्थित सबसे व्यस्त क्रॉसिंग है. इनमें अधिकतर शरणार्थी होंडुरास से हैं और उस ‘‘काफिले'' का हिस्सा हैं, जिसकी अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प कड़ी निंदा करते हैं.

भारत ने रोहिंग्या मुसलमानों की मदद के लिए बांग्लादेश को राहत सामग्री दी


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के स्थिति के नियंत्रण से बाहर जाने और लोगों को चोट पहुंचने की स्थिति में ‘‘मेक्सिको से लगी सभी सीमाएं बंद'' करने की धमकी देने के तीन दिन बाद यह कदम उठाया गया है. मेक्सिको के गृहमंत्री अल्फोन्सो नाबारेट्टे ने तिजुआना से ‘‘हिंसात्मक तरीके'' से  सीमा पार करने की कोशिश करने वाले शरणार्थियों की निंदा करते हुए कहा कि उन्हें वापस भेजा जाएगा. ‘मिलनियो टेलीविजन नेटवर्क' पर उन्होंने कहा, ‘‘काफिले की मदद करने की बजाय वे उनको नुकसान पहुंचा रहे हैं''. ट्विटर पर वायरल हुए वीडियो में शरणार्थियों की भीड़ अमेरिका की ओर जाते नजर आ रही है, जिसे वहां तैनात मेक्सिको पुलिस संभाल नहीं पाई. करीब 5000 शरणार्थी अमेरिका में दाखिल होने के लिए तिजुआना में एकत्रित हो रहे थे. 

टिप्पणियां

भारत से 7000 से अधिक लोगों ने पिछले साल अमेरिका में शरण के लिए अर्जी दी : संयुक्त राष्ट्र

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement