भारतीय सीमा पर 'चीनी अतिक्रमण' को लेकर बरसे अमेरिकी विदेश समिति प्रमुख, कहा - कूटनीतिक मार्ग अपनाएं

पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच गतिरोध कायम रहने के बीच यूएस हाउस की विदेश मामलों की कमेटी ने सोमवार को भारत के प्रति चीन के रवैये पर चिंता जाहिर की है.

भारतीय सीमा पर 'चीनी अतिक्रमण' को लेकर बरसे अमेरिकी विदेश समिति प्रमुख, कहा - कूटनीतिक मार्ग अपनाएं

समिति ने चीन के आक्रमक रवैये पर जताई चिंता

नई दिल्ली:

पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच गतिरोध कायम रहने के बीच यूएस हाउस की विदेश मामलों की कमेटी ने सोमवार को भारत के प्रति चीन के रवैये पर चिंता जाहिर की है. उन्होंने चीन से अपील की है कि वह नियमों का पालन करें और इस तनाव पूर्ण स्थिति का समाधान कूटनीतिक तरीके से करें. समिति के प्रमुख इलियट एंगेल की तरफ से एक बयान जारी करते हुए कहा गया कि भारत और चीन की LAC पर जो तनाव पैदा हुआ है, उस पर चीन का आक्रमक रवैया खासा चिंताजनक है. चीन अपने रवैये से यह दर्शा रहा है कि वह अंतरराष्ट्रीय नियमों के पालन करने के बजाय अपने पड़ोसियों को पड़ोसियों को धमका रहा है. 

Newsbeep

उन्होंने कहा कि सभी देशों के लिए एक ही तरह के नियम बनाए गए हैं ताकि हम ऐसी दुनिया में जो लोग सही दिशा में काम करें. समिति की तरफ से चीन से अपील की गई है कि वह भारत के साथ पैदा हुए तनाव को कूटनीतिक तरीके से ही सुलझाए. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


बताते चलें कि भारत और चीन की सेनाओं के बीच पूर्वी लद्दाख के पैगोंग सो, गलवान घाटी, डेमचक और दौलत बेग ओल्डी में तीन हफ्ते से अधिक समय से तनाव जारी है. विवादित क्षेत्र में दोनों देशों की सेनाओं द्वारा एक तरफ हथियार तैनात किए जा रहे हैं दूसरी तरफ सैन्य और राजनयिक स्तर दोनों के जरिये विवाद को सुलझाने की कोशिश हो रही है. 
 
Video: खबरों की खबर : ट्रंप ने झूठ क्यों बोला ?